स्वस्थ शरीर और सुन्दर चेहरे के लिए नियमित करे बकासन

comment 0

आज के भाग दौड़ वाले युग में मनुष्य अपने चेहरे की सुंदरता और स्वस्थ शरीर को बनाए रखने के लिए कोई ना कोई तरीका आजमाता रहता है| किन्तु समय की कमी की वजह से नियमित रूप से इस ओर ध्यान नहीं दे पा रहा है| जिसके परिणाम स्वरुप वह अपनी सुंदरता और स्वस्थ शरीर दोनों से ही हाथ धो बैठता है|

अगर आप भी इस प्रकार की किसी समस्या से जूझ रहें है या अन्य किसी रोग से परेशान है तो घबराएं नहीं बल्कि योग की मदद लें| इसके नियमित अभ्यास से आप तमाम रोगों से तो मुक्ति पाएंगे ही साथ ही चमकता चेहरा और सुडोल शरीर भी पा सकेंगे तथा इसके लिए आपको अधिक समय निकालने की भी जरुरत नहीं है|

आज हम आपको ऐसे ही एक आसन Bakasana in Hindi, के संबंध में कुछ ऐसी महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले है| जिन्हें जानकर आप शारीरिक, मानसिक और आत्मीय रूप से हर तरह के तनाव तथा रोग से राहत पा सकेंगे| इस आसन के अभ्यास से चेहरे की चमक बढ़ती है, हाथो की मांसपेशियां मजबूत होती है साथ ही शरीर के प्रत्येक अंगों में खिंचाव होता है जिससे शरीर निरोगी बना रहता है|

 Bakasana in Hindi: जानिए इसकी विधि और लाभ

Bakasana in Hindi

बक का तात्पर्य बगुला या सरस से है| इस मुद्रा को करते समय हमारे शरीर की आकृति बगुले के समान नजर आती है, इसलिए इसे बकासन नाम दिया गया है| इस आसान की शुरुवात में आपको थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि यह थोड़ा कठिन होता है, परन्तु इसके नियमित अभ्यास से आप इसे आसानी से कर पाएंगे| यह थोड़ा कठिन तो है लेकिन इसके फायदे भी बहुत है|

यदि आप अपने चेहरे को पहले की तरह बनाए रखना चाहते है तो बकसन आपके लिए बहुत उपयोगी है| यह चेहरे की खूबसूरती तो बढ़ाता है ही साथ ही बढ़ती उम्र के असर को भी काम करता है| यह योगासन शरीर और मांसपेशियों को मजबूत तथा दिमाग को संतुलित कर शरीर को स्फूर्तिवान बनाता है|

Bakasana Steps: बकासन करने की विधि

बकासन से ध्यान केंद्रित करने में भी मदद मिलती है| साथ ही हाथो और बाजुओं में मजबूती आती है| आइये जानते है आइए जानते है वैसे तो यह आसन साधारण है परन्तु बगुले की तरह आकृति बनने में थोड़ी कठिनाई आ सकती है Bakasana Steps

  1. इसे करने के लिए साफ़ और समतल जमीन पर चटाई या आसन बिछाकर बैठ जाएं|
  2. इसके बाद दोनों हाथों की हथेलियों को जमीन पर रखकर, दोनों हाथो की कोहनियों को थोड़ा सा बहार की तरफ मोड़ दीजिये|
  3. अब दोनों पेरो को अंदर की और खींचकर हथेलियों के पास ले जाएं|
  4. इसके बाद सांस अन्दर लेते हुए शरीर के भार को हथेलियों पर संभालते हुये धीरे-धीरे पैरों को जमीन से ऊपर उठाने का प्रयास करें और एक बगुले के समान की आकृति बनाने की कोशिश करें|
  5. कुछ समय इस अवस्था में रुके और फिर सामान्य स्थिति में आ जाएं|
आप यह भी पढ़ सकते है:- आकर्षक और स्वस्थ शरीर पाने के लिए अवश्य करें सुप्त वज्रासन

Bakasana  Benefits: बकासन के लाभ

  1. बकासन के निरन्तर अभ्यास से आपके चेहरे में चमक आती हैं|
  2. इस आसन को नियम से करने से आपके हाथों की सभी मांसपेशियों में बहुत मजबूती आ जाती है|
  3. इससे शरीर के समस्त अंगों में खिंचाव उत्पन्न होने की वजह से शरीर में कभी भी अकडन नहीं होती हैं और शरीर लचीला बना रहता है
  4. इसे नियमित करने से पेट की जमी चर्बी घटती हैं और शरीर सुडोल और सुन्दर बनता है|
  5. पेट से जुड़े सभी रोगों में लाभकारी हैं|

सावधानी

  1. उक्त आसन को जबरदस्ती करने का प्रयास न करें।
  2. जब भी यह आसन करें तो नरम-मुलायम गद्दे पर ही करें।
  3. इन्हें हाथों में कोई गंभीर शिकायत हो तो वह यह आसक कतई न करें।
  4. इस आसन की विधि को अच्छे से समझ कर ही यह आसन करें।
  5. गर्भवती महिलाओं को यह आसन नहीं करना चाहिये।

आज आपने जाना Bakasana in Hindi, यह थोड़ा कठिन है इसलिए शिक्षित योगाचार्य से परामर्श लेकर ही इसे दोहराए और शारीर को स्वस्थ बनाएं|

Related Post