All posts filed under “प्राणायाम

comment 0

Simple Pranayama: ज्यादा व्यस्त रहने वालों के लिए उत्तम प्राणायाम

शरीर के समस्त अंगों को सुचारु रूप से चलाने के लिए कई प्राणायाम किये जाते है। प्रत्येक प्राणायाम की अपनी अपनी विशेषता होती है। जिसे करने से शरीर को कई फायदे मिलते है। कुछ प्राणायाम ऐसे होते है जिन्हे हम…

comment 0

Chandrabhedan Pranayam: पेट की गर्मी को कम करने में सहायक, जानिए अन्य फायदे

हम जानते है की योग और प्राणायाम को नियमित करने से कई रोगों से छुटकारा मिलता है। इसी प्रकार चन्द्र्भेदी प्राणायाम से शरीर में होने वाले परिवर्तन और साथ ही उनसे होने वाले रोगों से छुटकारा मिलता है। चन्द्र्भेदी प्राणायाम…

comment 0

Murcha Pranayama: शारीरिक और मानसिक स्थिरता प्राप्त करने में मदद करे

मूर्छा प्राणायाम में मूर्छा का अर्थ होता है बेहोशी। इस आसन द्वारा तनाव और चिंता पर नियंत्रण किया जा सकता है, साथ ही यह आसन क्रोध को कम करने के लिए भी लाभकारी होता है। मूर्छा प्राणायाम करने में कठिन…

comment 0

Sushumna Nadi Awakening: प्राणायाम के माध्यम से सुषुम्ना को कैसे जगाएं

योग के सन्दर्भ में नाड़ी वह रास्ता है जिससे द्वारा शरीर की ऊर्जा का परिवहन होता है। योग में माना जाता है कि नाडियाँ शरीर में उपस्थित नाड़ी चक्रों को जोड़तीं है। देखा जाए तो कई योग ग्रंथ 10 नाड़ियों…

comment 0

Dirgha Pranayama: रोगों को दूर करे और आपकी आयु बढ़ाये

दीर्घ प्राणायाम साँस लेने का एक व्यायाम है जिसमें पूरे श्वसन प्रणाली का उपयोग कर फेफड़ो को जितना संभव हो सके भरना होता है। दीर्घ अर्थात लंबा, वह प्राणायाम जो व्यक्ति कि आयु को बढाता है उसे दीर्घ प्राणायाम कहते…