All posts filed under “योग मुद्राए

comment 0

Makara Adho Mukha Svanasana: शरीर की सभी मांसपेशियों में खिचाव लाये

मकर अधोमुख श्वानासन को Dolphin Plank Pose के नाम से भी जाना जाता है। मकर अधोमुख श्वानासन चार शब्दों से मिलकर बना है मकर, अधो, मुख और स्वान जिसमे मकर अर्थात डॉलफिन, अधो यानी नीचे की ओर, मुख यानी फेस…

comment 0

Maha Bandha: बुद्धि को तेज करे, पाचन शक्ति को मजबूत बनाने में मददगार

महाबंध में बंध का अर्थ होता है बंधन, गांठ, कसना। इसका अभ्यास कर लेने से प्राणोको शरीर के किसी एक भाग पर बांधा जा सकता है। यह मुद्रा दो बन्धो का सयुक्त रूप होता है। जिस कारण इसे महाबंध कहा…

comment 0

Ardha Ustrasana: कमर और कूल्हे को मजबूत बनाये व कमर दर्द को दूर करे

अर्ध उष्‍ट्रासन को अंग्रेजी में Half Camel Pose कहा जाता है। अर्ध उष्‍ट्रासन तीन शब्दों से मिलकर बना है अर्ध, उष्ट् और आसन। जिसमे अर्ध का अर्थ होता है आधा, उष्ट् यानी ऊँट और आसन अर्थात योग मुद्रा। वैसे तो…

comment 0

Ardha Baddha Padmottanasana: ध्यान करने की क्षमता का विकास करने में सहायक

अर्ध बद्ध पद्मोत्तासन को अंग्रेजी भाषा में Half Bound Lotus Standing Forward Bend भी कहा जाता है।अर्ध बद्ध पद्मोत्तासन का नाम चार शब्दों से मिलकर बना है जैसे अर्ध, बद्ध, पद्म और उत्तान। अर्ध यानी आधा, बद्ध अर्थात बाँधा हुआ,…

comment 0

Urdhva Padmasana: पाचन सुधारे, माइग्रेन में भी सहायक

ऊर्ध्व पद्मासन को लोटस इन हेड स्टैंड और अपवर्ड लोटस पोस्चर भी कहा जाता है। ऊर्ध्व पद्मासन दो शब्दों से मिलकर बना है ऊर्ध्व और पद्म। ऊर्ध्व अर्थात ओर गया हुआ व पद्म का अर्थ होता है कमल का फूल।…