हास्य योग कीजिये और अपनी ज़िंदगी को ओर भी बेहतर बनाइये

comment 0

मनुष्य अपनी सेहत को बनाये रखने के लिए क्या नहीं करता है| हर व्यक्ति अपने – अपने तरीके से सेहत को बनाये रखने के लिए कुछ न कुछ जरूर करते है| कोई नियमित कसरत करता है, कोई जिम जाता है, कोई नियमित घूमने के जाता है| यह सभी क्रियाएँ शरीर को स्वस्थ बनाये रखने के लिए सही है, परन्तु इन् सब प्रक्रियाओ के अलावा भी कुछ ऐसी सामान्य योगासन है, जो हर व्यक्ति कही भी किसी भी वक्त कर सकता है|

आज हम आपको ऐसे ही योग के बारे में बताने जा रहे है| तो एक सामान्य सा योग है जिसे हर व्यक्ति अपनी रोजमर्रा की ज़िंदगी में कई बार करता है| इस योग को हम हास्य योग के नाम से जानते है|

आज के समय में हर व्यक्ति अपने जीवन को हंसी खुँसी बिताना चाहता है लेकिन ज़िंदगी की भाग दौड़ में कही न कही किसी न किसी रूप में वह अपने आप को अकेला महसूस करता है| अपने काम या नौकरी का तनाव या किसी अन्य परेशानी की वजह से लोगो के चेहरे की मुस्कान तक जैसे गायब हो गयी है|

आज हम आपको बताने वाले है कि Hasya Yoga in Hindi से होने वाले लाभ, जो आपको शारीरिक और मानसिक दोनों रूपों को सुदृढ़ बनता है|

Hasya Yoga in Hindi: जानिए इसके नियम और फायदे

Hasya Yoga in Hindi

अमेरिकन स्कूल ऑफ लाफ्टर योग के संस्थापक और कार्यकारी निदेशक सेबास्टियन गेन्ड्री कहते हैं, ‘हास्य योग करने के बाद हो सकता है आपका वजन कम ना हो, लेकिन दिमाग से ये ख्याल जरूर निकल जाएगा कि आप मोटे हैं| लोग इसीलिए योग को अपनाते हैं क्योंकि ये एक तरह की कसरत है| लोग इसे करते हैं और खुद को खुश रखते हैं|

Laughter Yoga का प्रयोग अब चिकित्सक भी अपने मरीजों पर करने लगे है| पेरिस के एक डॉक्टर ने अपने रोगियों को हास्य योग के द्वारा आश्चर्य जनक ढंग से अनेक रोगो से मुक्ति दिलाई है| वह सामान्य उपचार के साथ साथ सप्ताह में एक दिन अपने मरीजों की आँखों पर पट्टी बांधकर बिठाते है और कुछ हंसी से जुड़े हुए क्लिप्स सुनते है| जिसे सुनकर पूरा माहौल ठहाकों से गूंज उठता है| कुछ वैज्ञानिको का तो यह तक कहना है कि हंसी के बिना जीवन व्यर्थ है|

हास्य योग की विधि

आम ज़िंदगी में क्रोध, भय, तनाव जैसे नकारात्मक भाव हमारे शरीर पर घातक प्रभाव डालते है| वहीं हास्य योग के जरिए हमारे शरीर में ऐसे रसायनो का स्नव होता है, जो स्वास्थ्य पर अनुकूल प्रभाव डालते है| यह एक प्रकार के टॉनिक की तरह काम करता है| आइये जानते है इसे करने की विधि –

यह एक आसन है जिसे करने के लिए आपको किसी मुद्रा में बैठने की जरुरत नहीं है| इसे आप पद्मासन, सुखासन, घूमते-फिरते तथा घर या ऑफिस में बैठे हुए भी इसका अभ्यास आसानी से किया जा सकता है| शुरुवात में मंद-मंद मुस्कुराए, फिर धीरे-धीरे खूब ठहाके लगाकर लगाकर हाथों को ऊपर उठाकर हसते रहें| शुरू-शुरू में 2 से 3 मिनट तक करें, फिर धीरे-धीरे अपनी सुविधानुसार आप इसे कर सकते है| इसका अभ्यास 8 साल के बच्चे से लेकर 80 साल के बुजुर्ग तक कर सकते है|

आप यह भी पढ़ सकते है:- जानिए सीत्कारी प्राणायाम को करने की विधि और इसके लाभ

हास्य रोग के लाभ

हंसने और हँसाने से मानसिक तनाव तो दूर होता है ही साथ ही शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली भी मजबूत होती है तथा रोगों से लड़ने की हमारी ताकत बढ़ जाती है। वैज्ञानिकों ने माना है कि जो व्यक्ति जी भर कर हंसता है, वह अधिक जीता है।

खुलकर और जोर-जोर से ठहाके लगाने से शरीर में रक्त के संचार की गति बढ़ती है| पाचन तंत्र अधिक सक्रियता से कार्य करता है तथा हँसने के कारण फेफड़ो के रोग भी नहीं होते है, दूषित वायु बहार निकल जाती है| हसने से पसीना अधिक आता है जिससे शरीर की गंदगी बाहर निकल जाती है| हँसना जीवन की नीरसता, अकेलापन, थकान, तनाव और शारीरिक दर्द से भी राहत दिलाता है| यह हमारे लिए एक प्रकार की Laughter Therapy है|

आज हमने आपको Hasya Yoga in Hindi, के बारे में बताया है| यह एक आसान और सरल सा आसान है, लेकिन अनेक शारीरिक और मानसिक विकारो को दूर करने में सहायक है| इसलिए बिना संकोच किये खूब हंसिए और दुसरो को भी हंसाइए| हसते मुस्कुराते रहना ही सफल ज़िंदगी की असली पहचान है|

Related Post