Hip Opening Yoga: अब योग के माध्यम से हिप्स के आस पास की चर्बी हटाए

आज कल जिसे देखे वो अपने मोटापे से परेशान है और यह मोटापा लोगो में उनकी अनहैल्थी लाइफ स्टाइल के चलते बढ़ रहा है। अगर लोग अपने आप को स्वस्थ रखने के लिए एक्सरसाइज या योग का सहारा ले तो खुद को काफी आसानी से स्वस्थ रख सकते है।

योग या एक्सरसाइज करने के लिए पहले पता होना चाहिए की शरीर के कौन से हिस्से मोटापे से प्रभावित है और फिर उस बॉडी पार्ट के लिए कौन सी एक्सरसाइज को करना आपके लिए सही होगा जिससे की आप जल्दी से मोटापा कम कर सकते है।

मोटापा ज्यादातर पेट जांघो और हिप्स पर तेज़ी से बढ़ता है। जिस वजह से कई लोग अपने आप को पसंद नहीं करते है। एक बार पेट और जांघो का मोटापा तो आप छुपा सकते है। लेकिन हिप्स के एरिया से मोटापा कम करने के लिए योग एक बेहतरीन ऑप्शन है।

इस लेख में आज हम आपको बता रहे की योग के आसनो के माध्यम से हिप्स एरिया से चर्बी को कैसे कम कर सकते है और इन बेसिक योगासनों के नियमित अभ्यास आप प्रॉपर शेप कैसे पा सकते है। इस लेख में पढ़े Hip Opening Yoga.

Hip Opening Yoga: अपने हिप्स को शेप में रखने के लिए करें बताये गए योगासन

Hip Opening Yoga in Hindi

उत्कटासन (Chair Pose)

  • यह आसन हिप्स और थाइज के लिए बहुत ही अच्छा होता है।
  • इससे पैरों की सभी मसल्स प्रभावित होती है जो माँसपेशियों को मजबूत बनाता है।
  • इस आसन में एक काल्पनिक कुर्सी पर बैठने की स्थिति बनाई जाती जाती है।
  • इसमें पूरे शरीर का वजन पैरों और हिप्स पर होता है।
  • यह पैरों के साथ साथ हिप्स को भी टोन में रखता है और साथ ही मांसपेशियों का निर्माण करता है।
  • इस आसन को करने के लिए पहले अपने मैट पर सीधे खड़े हो जाए।
  • अब अपने घुटनो को धीरे धीरे मोड़े और चेयर पर बैठने की स्थिति में आए।
  • अब अपने दोनों हाथों को अपने सर के ऊपर उठाए और आपस में जोड़ लें।
  • इस स्थिति को कुछ देर के लिए बनाये रखे और धीरे धीरे साँस लें।
  • अगर आप पहली बार इस आसन को कर रहे हैं तो अपनी बॉडी पर ज्यादा जोर ना डाले।
  • जितना हो पाए और जितनी देर इस पोज़ में रह पाए उतनी देर रहे।
  • नियमित रूप से करने पर धीरे धीरे इस आसन को करने की अवधि बढ़ जाएगी।

वीरभद्रासन द्वितीय (Warrior Pose)

  • इस आसन को करने से पैरों और इनर थाइज के साथ साथ हिप्स भी काफी प्रभावित होते है।
  • यह आसन करने में और देखने में काफी सिंपल लगता है।
  • इसी के साथ यह मांसपेशियों और मसल्स के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता है।
  • इस योग आसन की सबसे अच्छी बात यह है की एक ही समय पर यह दोनों पैरों से अलग अलग प्रकार के अभ्यास करना पड़ते है।
  • तो इससे मसल्स को काफी ज्यादा फायदा होता है।
  • इस आसन को करने के लिए पहले अपने दोनों पैरों में दूरी बना कर खड़े हो जाए।
  • आगे पीछे की ओर थोड़ी ज्यादा दूरी बनाए।
  • आप अपने पीछे वाले पैर को और थोड़ा आड़ा घुमाए और साथ ही अपने आगे वाले पैर को सीधा रखे।
  • अब अपने आगे वाले पैर को घुटनो से थोड़ा मोड़े और थोड़ा नीचे हो जाये साथ ही पीछे के पैर को बिलकुल भी ना मोड़े।
  • अब अपने दोनों हाथों को ऊपर अपने कंधो की सीध में उठाए और सीधा रखे।
  • इस मुद्रा को थोड़ी देर तक बनाए रखे और इस पूरी क्रिया में लम्बी और गहरी साँस लें। फिर इस पूरी क्रिया को दूसरी साइड से करे।
  • इस आसन को करने से आपके पैरों को काफी अच्छी स्ट्रेचिंग मिलती है।

नटराजासन (Lord of Dance Pose)

  • इस आसन में एक बहुत ही अच्छी मुद्रा बनाई जाती है।
  • इस मुद्रा में हाथ पैर दोनों ही ज्यादा फैले हुए होते है।
  • यह मुद्रा करने से बाहरी और आंतरिक दोनों ही थाइज स्वस्थ रहती और चर्बी घटती है।
  • इस योगासन के अभ्यास से पैरों की मांसपेशियों को काफी मजबूती मिलती है।
  • यह बॉडी में बैलेंस बनाने के लिए एक बेहतरीन योगासन होता है।
  • क्योंकि इसकी मुद्रा में बॉडी का पूरा भार एक पैर पर होता है।
  • इससे पैरों में ब्लड सर्कुलेशन सही बना रहता है।
  • इस आसन की मुद्रा ऐसी होती है की हिप्स से चर्बी कम हो जाती है।
  • इस आसन को करने के लिए मैट पर सीधे खड़े हो जाए।
  • अब अपने एक पैर को पीछे की ओर उठाए जिस साइड के पैर को उठाया है उस साइड के हाथ से उस पैर के पंजे को पकडे।
  • इसके बाद अपनी अपर बॉडी को आगे की ओर नीचे झुकाइए। जितना हो जाके उतना ही करें आगे की ओर बहुत ज्यादा भी न झुके।
  • दूसरे हाथ को आगे की ओर ऊपर उठाए साथ ही इस हाथ से ज्ञान मुद्रा की स्थिति बनाए।
  • थोड़ी देर के लिए इस मुद्रा को बनाए रखे और पूरी क्रिया में धीरे धीरे और गहरी साँस लें।
  • अब इस पूरी क्रिया को दूसरे पैर से करें।

उष्ट्रासन (Camel Pose)

  • यह आसन पेक्टोरल और हिप फ्लेक्सोरस के लिए एक बेहतरीन आसन है।
  • यह हिप्स और थाइज को जल्द ही टोन में लें आता है।
  • इसी के साथ यह आसन शरीर के सामने के हिस्से के लिए काम करता है।
  • इस आसन को करने के लिए पहले अपने मैट पर वज्रासन की अवस्था में बैठ जाए।
  • अब अपने घुटनो के बल खड़े हो जाए।
  • इसके बाद पीछे की ओर झुके और अपने दोनों हाथों से अपने पैरों की ऐड़ियो को पकडे।
  • आपका चेहरा ऊपर आसमान की ओर होना चाहिए।
  • इस अवस्था को अपनी क्षमतानुसार बनाए रखे।
  • इस पूरी क्रिया में धीरे धीरे सांसे लें।

बद्ध कोणासन (Cobbler Pose)

  • यह हिप्स ओपनर के लिए एक बहुत ही प्रभावशाली योगासन है।
  • यह इनर थाइज को भी टोन में रखने में सक्षम है।
  • इस योगासन को करने से हिप्स और थाइज दोनों ही शेप में रहते है।
  • इस आसन को करने के लिए अपनी मेट पर बैठ जाए ।
  • फिर अपने पैरों को घुटनो से इस प्रकार मोड़े की सेंटर में अपने दोनों पैरों की ऐड़ियो और पंजो को आपस में जोड़ सके।
  • अपने दोनों हाथों से अपने दोनों पैरों को पकड़ लें।
  • साथ ही ध्यान रखे की आपके पीठ और रीढ़ की हड्डी एकदम सीधी रहनी चाहिए।
  • इस अवस्था को थोड़ी देर के लिए बनाए रखे।

इस लेख में आज अपने जाना की हिप्स ओपनर के लिए आपको कौन से योगासन करना चाहिए। ऊपर लेख में दिए गए सभी योगासन काफी प्रभावशाली और असरकारी है। ऊपर दिए योगासनों के अलावा Yoga for Hips के लिए आप चाहे तो मलासन, नवासन, शलभासन, सेतु बंधासन, आनंद बलासन, जानु सिरासन और उपविष्टा कोणासन कर सकते है।

You may also like...