Mudras for Hair Growth: इन मुद्राओं से रखे बालों को स्वस्थ

योग हमारे देश में प्राचीन काल से चले आ रहा है।योग से हमे हमारी कई स्वास्थ सम्बन्धित समस्या और परेशानियों का हल मिलता है और साथ ही हम इसके माध्यम से अपने मन को शांति भी प्रदान करते हैं। योग सिर्फ पूरे शहर से नहीं बल्कि सिर्फ हाथों के इस्तेमाल से भी किया जाता है।

हाथों और सांसों के इस्तेमाल से किया जाने वाले योग को मुद्रा कहते है और यही योग मुद्रा हमे कई तरह से फायदा पहुँचाती है। ये योग मुद्राएं पांच तत्वों से जुडी होती है। पंचतत्व अर्थात पृथ्वी, जल, वायु, अग्नि और आकाश जो कि हमारे शरीर में संतुलन बनाये रखती है।

विभिन्न मुद्राएं शरीर के ऊर्जा के प्रभाव को नियंत्रित करके हमारे शरीर में पंचतत्व को संतुलित रखती है और स्वस्थ बनाती है। इन पंचतत्व के संतुलित रहने से हमारा शरीर स्वस्थ रहता है।

इन मुद्राओ को करने से हमारे बालों से संबंधित समस्या भी दूर हो जाती है। हम इनके जरिये पा सकते हैं अपने बालों में बेहतर ग्रोथ।  योग में मुद्राओं को असानो से भी बढ़कर माना गया है।

मुद्राओ को करने से शारीरिक और मानसिक शक्तियों का विकास होता है और यह हर तरह से लाभदायक होती है । तो इस लेख में पढ़े कुछ मुद्राओ के बारे में जिससे आपके बालो की समस्या दूर होगी। जानिए Mudras for Hair Growth.

Mudras for Hair Growth: बालो के लिए योग मुद्राएं

Mudras for Hair Growth in Hindi

पृथ्वी मुद्रा करने की स्टेप्स

  • पहले पद्मासन या फिर सुखासन में बैठ जाए ।
  • अब अपने दोनों हाथों को सीधा रखते हुए अपने घुटनों पर रखे।
  • अब अपनी तर्जनी उंगलि को मोड़ कर अपने अंगूठे के ऊपरी भाग को हल्का दबाये।
  • 10 से 15 मिनट के लिए इस मुद्रा में रहे।
  • मुद्रा में रहने के दौरान धीरे धीरे साँस लेते रहे।
  • मन से सभी प्रकार के विचार निकाल दे और सिर्फ ॐ पर अपना ध्यान केंद्रित करे।

प्राण मुद्रा करने की स्टेप्स

  • सुखासन में बैठ जाए।
  • अब अपने दोनों हाथों को अपने घुटनों पर रखे।
  • आप अपने दोनों हाथों की छोटी ऊँगली या चींटी ऊँगली और अपनी अनामिका ऊँगली दोनों से अपने अंगूठे के ऊपरी भाग को छुए ।
  • इस मुद्रा को 48 मिनट तक के लिए करे।
  • और अपना पूरा ध्यान अपनी साँसो पर केंद्रित करे।
  • साँस समान्य तरह से ले।

वायु शामक मुद्रा करने की स्टेप्स 

  • अपने मैट पर पद्मासन या फिर सिद्धासन में बैठ जाये।
  • अब अपने दोनों हाथों को घुटनो पर रखे।
  • अब अपने दोनों हाथों की तर्जनी उंगलियों को मोड़ कर अंगूठे की जड़ से स्पर्श करे।
  • बाकि उंगलियों को सीधा रखे।
  • अपनी साँस पर ध्यान केंद्रित करते हुए साँस सामान्य तरीके से ले।
  • इस मुद्रा को कम से कम 10 से 8 मिनट तक करे।

प्रसन्ना मुद्रा करने के लिए स्टेप्स 

  • पहले  पद्मासन में बैठ जाये।
  • अब अपने दोनों हाथों की उंगलियों को मोड़ ले और आपस में उंगलियों के नाखुनो को ऊपर निचे धीरे धीरे रगड़े ।
  • इस मुद्रा को रोज़ 5 से 10 मिनट तक करे।
  • और साँस समान्य तरीके से लेते रहे।

कफानाशक मुद्रा करने के लिए स्टेप्स 

  • इस मुद्रा को किडनी मुद्रा और पित्तकारक मुद्रा भी कहा जाता है
  • इसे करने के लिए पहले पद्मासन में बैठ जाये।
  • अब अपने दोनों हाथों की अनामिका ऊँगली को मोड़े और अंगूठे की जड़ को स्पर्श करे।
  • बाकी सब उंगलियों को सीधा रखे।
  • इस मुद्रा को कम से कम 8 मिनट तक के लिए करे।
  • साँस सामान्य तरीके से ले।

अगर आपको भी बालों से रिलेटेड कोई समस्या है तो ऊपर दी गयी सभी मुद्राये आपके लिए लाभदायक है। इन मुद्राओ को करने से आपको कई प्रकार के लाभ तो होंगे हीं और साथ ही आपकी बालों से सम्बन्धित सभी प्रकार की समस्या दूर होगी।

You may also like...