पेट की चर्बी घटाने और वजन कम करने के लिए 3 मुख्य प्राणायाम

comment 0

आजकल की व्यस्त जीवनशैली में लोगो के पास समय की बहुत कमी है, जिसके चलते लोगो के पास जिम जाने या फिर किसी फिटनेस प्रोग्राम को ज्वाइन करने का वक्त नहीं है| परिणामस्वरूप लोगो में मोटापा, वजन का बढ़ना आदि चीज़े दिखाई देती है| आज के समय में तो मोटापा एक गंभीर समस्या बन चुकी है|

मोटापा ऐसी चीज़ है जो अपने साथ और भी कई बीमारियों को लेकर आता है| एक बार मोटापा बढ़ जाता है तो उसे कम करना बहुत मुश्किल हो जाता है| कई लोग इसके लिए दवाइया तक लेना शुरू कर देते है| लेकिन कोई सकारात्मक परिणाम नहीं मिलता, उल्टा दवाई का विपरीत असर शरीर को और नुकसान पहुचाता है|

प्राणायाम, वजन को कम करने का एक प्रभावी तरीका है| इसे करना बहुत आसान है और इसे घर पर भी किया जा सकता है| आप इसे बढ़ी ही आसानी से रोजमर्रा की जिंदगी में शामिल कर सकते है| प्राणायाम के फायदे बहुत ही लाभकारी है| आइये जानते है Pranayama for Weight Loss in Hindi.

Pranayama for Weight Loss in Hindi: वजन कम करने में मददगार

Pranayama for Weight Loss in Hindi

यदि आप वजन को कम करना चाहते है तो पहले आपको अपनी दिनचर्या को समझना होगा की मोटापे की मुख्या वजह क्या है| क्योकि योग का मतलब आपको जागरूक करना भी है| दरहसल अपनी दिनचर्या और तनाव के चलते, हम अपने अन्दर कई बीमारिया जैसे हाइपरटेंशन, ओबेसिटी आदि को न्योता दे देते है| एक अच्छी लाइफस्टाइल हमें सुन्दर और स्वस्थ शरीर देती है|

आपको जागरूक करने के अलावा, योग का अभ्यास आपको वजन घटाने में मदद करता है| योग गुरु कहते है की प्राणायाम के अभ्यास से आप स्लिम बॉडी पा सकते है| क्योंकि प्राणायाम का अभ्यास आपके शरीर में चर्बी का संतुलन बनाता है| यदि आपके शरीर में अतिरिक्त चर्बी है तो प्राणायाम के अभ्यास से वो ख़तम हो जाती है| आइये जानते है वजन को घटाने में कौन कौनसे प्राणायाम मदद करते है|

कपालभाति प्राणायाम

वजन को कम करने के लिए कपालभाति से बेहतर कुछ नहीं है| इसकी मदद से आप आसानी से वजन कम कर सकते है| हम आपको बता दे की कपालभाति की मदद से भारत में बहुत से लोगो ने आसानी से वजन कम किया है| Kapalbhati Yoga for Weight Loss बहुत प्रभावी है|

  • यह आपके शरीर को डेटोक्स करता है और शरीर की बढ़ी हुई चर्बी आसानी से कम कर देता है|
  • इसे करने से पसीना बहुत कम आता है, जिससे आपका शरीर का फेट कम होता है|
  • इससे आप अपनी कमर और शरीर के आकर को फिर से सामान्य आकार में ला सकते है|

Kapalbhati Pranayama Steps: कपालभाति प्राणायाम की विधि जानिए

अनुलोम विलोम प्राणायाम

अनुलोम विलोम प्राणायाम को नाड़ी शोधन प्राणायाम भी कहा जाता है| इस प्राणायाम को हर उम्र के लोग कर सकते है| इसे करने के लिए सुबह का समय चुनना चाहिए| कमजोर और एनीमिया से पीड़ित लोगो को इसे करते वक्त थोड़ी सावधानी बरतनी चाहिए|

  • इस प्राणायाम के दौरान जब हम गहरी सांस लेते हैं तो शुद्ध वायु हमारे खून के दूषित तत्वों को बाहर निकाल देती है।
  • यह ना केवल वजन घटाने में मदद करता है बल्कि इससे शरीर कांतिमय और शक्तिशाली भी बनता है|

अनुलोम विलोम की विधि:-

  1. Anulom Vilom Pranayama करने के लिए सर्वप्रथम स्वच्छ जगह पर दरी बिछाकर सिद्धासन की अवस्था बैठ जाएं।
  2. इसके पश्चात अपने सीधे हाथ के अंगूठे की मदद से नाक के दाएं छिद्र को बंद कर लें और नाक के बाएं छिद्र से सांस अंदर की और ले|
  3. अब अपनी नाक के बाये और के छिद्र को अंगूठे के बगल वाली दो अंगुलियों से बंद कर दें और दाहिने छिद्र से अंगूठे को हटा दें और सांस को बाहर की और निकालें।
  4. अब वापिस नाक के दाए छिद्र से ही सांस अंदर की और ले और दाए छिद्र को बंद करके बाये छिद्र को खोलकर सांस को 8 की गिनती में बाहर की और निकालें।
  5. इस क्रिया को आप शुरुवात में 3 मिनट तक करे और फिर धीरे धीरे इसके अभ्यास के समय को 10 मिनट तक बढ़ाये|
आप यह भी पढ़ सकते है:- पाचन क्रिया और पेट सम्बंधित रोगों में असरकारक अग्निसार प्राणायाम

भस्त्रिका प्राणायाम

भस्त्रिका शब्द संस्कृत भाषा से लिया गया है जिसका मतलब धौकनी होता है| दरहसल जिस प्रकार एक लौहार उष्णता उत्पन्न करने के लिए धौकनी की सहायता लेता है और तेज़ हवा से लोहे को तपा कर, लोहे की अशुद्धियाँ दूर करता है और उसे आकार देता है| ठीक उसी प्रकार भस्त्रिका प्राणायाम हमारे शरीर के लिए कार्य करता है|

  • भस्त्रिका प्राणायाम हमारे शरीर से अशुद्धिया और नकारात्मकता दूर करता है| यह वात तथा कफ जैसे दोषों को हमारे शरीर से दूर करता है|
  • यह वजन कम करने और पेट की चर्बी को कम करने में सहायक है|
  • इससे शरीर के सभी अंगो का रक्त संचार सुधरता है|

Bhastrika Pranayama Steps: भस्त्रिका प्राणायाम करने की विधि

ऊपर आपने जाना Pranayama for Weight Loss in Hindi. इन प्राणायाम का नियमित अभ्यास आपके शरीर का वजन कम कर उन्हें सही आकार में लाने में मदद करेगा| यदि आपको इसे करते वक्त किसी तरह की समस्या जैसे शरीर में दर्द, उलटी आना आदि हो रहा है तो इसे बंद करदे और पहले योग विशेषज्ञ की सलाह ले|

Related Post