सर्वांगासन योग – शरीर के कई रोगों में लाभकारी

comment 0

हम अक्सर यह सुनते आ रहे है की योग आसनों के अभ्यास से हमें लाभ मिलता है| योग के कुछ आसन लम्बाई बढाने में मददगार होते है तो कुछ आसन शरीर की चर्बी घटाने में सहायक| हर एक आसन का अपना अलग महत्व है|

लेकिन आजकल की व्यस्तता से भरी लाइफ स्टाइल में हर किसी के पास इतना समय नहीं है की वो हर आसनों के लिए रोजाना बहुत सारा समय दे सके, ऐसे में उन्हें एक ऐसे आसन की जरुरत है, जिसके केवल 15-20 मिनट के अभ्यास मात्र से शरीर को कई फायदे मिले|

सर्वांगासन अर्थात सर्व अंग और आसन| जैसा की नाम से ही प्रतीत हो रहा है यह आसन हमारे पुरे शरीर के अंगो का व्यायाम करने में सहायक है| इससे पुरे अंगो का व्यायाम होता है इसलिए यह आसन कई फायदो से भरपूर है| इसे Shoulder Stand Pose के नाम से भी जाना जाता है|

यह आसन करने में थोडा कठिन होता है, क्योकि इसमें आपके शरीर का पूरा भार आपके कंधो पर होता है| इसलिए इस आसन को योग शिक्षक के निर्देश में ही किया जाना चाहिए| इसकी विद्धि और अन्य फायदों के लिए आइये जानते है Sarvangasana in Hindi.

Sarvangasana in Hindi – जानिए सर्वांगासन की विधि और लाभ

Sarvangasana in Hindi

Sarvangasana Steps in Hindi: सर्वांगासन कैसे करे?

  • इस आसन का अभ्यास करने के लिए सर्वप्रथम चटाई बिछाकर पीठ के बल लेट जाएं।
  • सर्वांगासन का अभ्यास करने के लिए हवादार जगह का चुनाव करना अच्छा होगा|
  • जब आप लेटेंगे अपने दोनो पैरों को मिलाकर रखे तथा पूरे शरीर को सीधा तान कर रखें।
  • अब अन्दर की और धीरे-धीरे सांस ले और पैरों को ऊपर की और उठाएं।
  • इस क्रिया में पहले पैरों को ऊपर उठाएं, फिर कमर को, इसके पश्चात अपने छाती तक के भाग को ऊपर की और उठाये|
  • इस क्रिया को करते वक्त पैरों को सीधा रखें, अपने घुटनों को मौड़े नहीं|
  • आप अपनी कमर को सहारा देने के लिए अपने दोनों हाथों को कोहनी से मोड़कर कमर पर लगाकर इसे सहारा दे|
  • इस आसन में शरीर का पूरा भार कंधों पर रहता है| इसलिए इस स्तिथि में आपके कंधे से कोहनी तक के भाग को जमीन से सटाकर रखें|
  • जब आप ऐसा करेंगे तब आपकी थोड़ी आपकी छाती से सटी हुयी होगी|
  • अब पैरों को तान कर ऊपर की और खिचे, तथा शरीर को स्थिर करते हुए कुछ सेकंड्स इसी स्तिथि में बने रहे|
  • इस अवस्था में आपको सामान्य रूप से सांस लेना और छोड़ना है|
  • जब आपको इसकी अच्छी प्रैक्टिस हो जाये तक आसन के अभ्यास का समय बढ़ाकर आप 3 मिनट तक का कर सकते है|
  • अब सामान्य अवस्था में आने के लिए शरीर को ढीला छोड़ दे, और घुटनों को मोड़कर आराम से सामान्य अवस्था में आये|
  • इसके बाद 20 सैकेंड तक आराम करें।
  • इस क्रिया को 3 से 4 बार करे|
आप यह भी पढ़ सकते है:- शरीर का लचीलापन बढ़ाने में सहायक है बालासन, जानिए अन्य लाभ

Sarvangasana Benefits in Hindi: सर्वांगासन के फायदे

  1. सर्वांगासन में सर तक रक्त का संचार बहुत अच्छी तरह से होता है, इसलिए इसे करने से बाल झड़ने की समस्या दूर होती है|
  2. इससे आपके कंधे और पीठ दोनों मजबूत बनते हैं साथ ही इनमे लचीलापन भी आता है|
  3. Shoulder Stand Yoga महिलाओं की मासिक धर्म से जुडी समस्याए जैसे अनियमित मासिक धर्म, इस दौरान पेट में होने वाला दर्द आदि दूर करता है|
  4. इससे पाचन से जुडी कई समस्याए सुर होती है, इसे करने से कब्ज आदि की शिकायत नहीं होती|
  5. इसे करने से दिमाग तेज होता है, यादाश्त बदती है तथा तनाव की समस्या दूर होती है|
  6. जो लोग दमा से पीड़ित हैं उनके लिए यह सर्वांगासन का अभ्यास बहुत लाभ देता है|
  7. यह पिच्युटरी ग्लैंड को क्रियाशील बनाता है, जिसके चलते इसे करने से लम्बाई बढती है| ताड़ासन की तरह यह आसन भी लम्बाई बढाने में सहायक है|
  8. इस आसन को करने से आपके चेहरे के तरफ रक्त का प्रवाह अच्छा रहता है जिससे चेहरे की झुर्रिया दूर होती है|
  9. इससे आपके चेहरे के मुहांसे दूर होते है, यह आपके चेहरे को सुन्दर और आकर्षक बनाता है|
  10. यह आसन शरीर को शुद्ध करता है, इसलिए इससे शरीर में चर्बी जमा नहीं होती है, इसलिए मोटापा घटाने की चाहत रखने वालो को यह आसन जरुर करना चाहिए|

ऊपर आपने जाना Sarvangasana in Hindi. सर्वांगासन का अभ्यास करके आप भी कई लाभ प्राप्त कर सकते है| किन्तु यदि आपके कमर –पीठ में दर्द हो या आपको रक्तचाप की समस्या तो इस आसन का अभ्यास आपको नहीं करना चाहिए|

Related Post