वाटर मेडिटेशन – तनाव दूर करने का बेहतरीन तरीका

मेडिटेशन या ध्यान हमारे लिए बहुत ही फायदेमंद है| यह ना हमें केवल शारीरिक, मानसिक बल्कि आत्मिक लाभ भी देता है| आपको शायद इस विषय में जानकारी ना हो किन्तु ध्यान के वक्त किया गया विश्राम गहरी से गहरी नींद के विश्राम से भी अधिक गहरा होता है।

ध्यान से हमें अच्छी एकाग्रता मिलती है, इससे अनिद्रा की समस्या दूर होती है| यह आपको सुन्दर बनाता है| ध्यान के अभ्यास से हमें आत्मिक सुख प्राप्त होता है| नियमित ध्यान के केवल 20 मिनट के अभ्यास से आप कई लाभ पा सकते है|

आपने हर व्यक्ति के ध्यान करने के का तरीका, या ध्यान करने के लिए चुनी हई जगह अलग अलग देखी होगी| ऐसा इसलिए है क्योकि ध्यान के भी कई प्रकार है, इसे करने के कई तरह है| आज हम आपको बता रहे है Water Meditation in Hindi.

Water Meditation in Hindi – पानी में ध्यान कैसे करते है और इसके फायदे

Water Meditation in Hindi

ध्यान करते वक्त पानी की छवि का वर्णन किया जाता है, किस तरह पानी सारी रूकावटो को तोड़ कर अनन्त प्रवाह में चलता रहता है| इस द्रश्य को केवल मन में सोचने के बजाय हकीकत में बदलने के लिए पानी में ध्यान किया जाता है| इससे आपके तन और मन की शक्ति बढती है|

पानी आपकी ध्यान करने की क्षमता को बढाता है| यदि कोई व्यक्ति पानी में जाकर मंत्र का अभ्यास करता है तो उसे उसके मन में शांति का अनुभव होता है| वो दुनिया के सारे बन्धनों से मुक्त, अपने आप में काफी हल्का महसूस करता है|

वैसे तो हर कोई पानी में जाकर ध्यान करे ऐसा मुमकिन नहीं हो सकता है| तो पानी के बहार भी इसे किया जाता है| इसमें आपको केवल इस चीज़ को सोचना होता है| वाटर मेडिटेशन के तरीके कई है, पर सब लगभग एक ही समान परिणाम देते है|

पानी की कल्पना करते हुए ध्यान करना

  1. बिना पानी के वाटर मेडिटेशन करने के लिए सर्वप्रथम एक शांत जगह पर आराम दायक अवस्था में बैठ जाये|
  2. इस बात का ख्याल रखे की कोई भी आपको डिस्टर्ब करने वाला ना हो|
  3. जो भी इसका अभ्यास कर रहा है उसे यह सोचना है की वो पानी में तैर रहा है|
  4. इसके अतिरिक्त आपको ऐसा ध्यान लगाना है की ठंडा पानी आपके ऊपर से बहकर, शरीर के सारे विषाक्त पधार्थो को बाहर निकाल रहा है|
  5. इस तरह से visualize करने पर मन बिखरे हुए विचारों से मुक्त हो जाता है, और इससे गहरे विश्राम की गहरी अनुभूति होती है|

आप यह भी पढ़ सकते है:- ऑफिस मेडिटेशन – जाने इसका तरीका और पाएं तनाव से निजात

पानी की ध्वनी सुनते हुए ध्यान करना

Meditation Technique में सारी ध्वनियों को भी एकीकृत किया जाता है। इसलिए जब आप वास्तव में पानी के करीब ना हो तो इसका एहसास दिलाने के लिए आपको बाजार में कई रिकॉर्डिंग मिल जाती है| जिसमे नदियों के प्रवाह और समुद्र की लहरों की आवाज होती है, जिससे आपको वास्तविक फीलिंग आ सके| और यदि आप वाकई पानी या झरने के पास जाकर ध्यान करते है तो इससे बेहतर तो और कुछ हो ही नहीं सकता|

झरने या नदी के समीप ध्यान करना

कुछ ध्यान सच में पानी के समीप किये जाते है| जिसमे अभ्यर्थी या तो तालाब, झील या फिर बड़े बाथटब में तैरते है| बहुत सारे हेल्थ सपा और रिसॉर्ट्स इस तरह की सर्विस ऑफर करते है| हकीकत में पानी में ध्यान का अभ्यास करना बहुत ही प्रभावी माना जाता है| जैसा की हम जानते है हमारे शरीर का 70 प्रतिशत हिस्सा पानी से बना है, इसलिए पानी में ध्यान करना हमारे शरीर को कई तरह से फायदे पहुचाता है|

ऊपर आपने जाना Water Meditation in Hindi. वाटर मेडिटेशन के कुछ फायदे, दुसरे प्रकार के मेडिटेशन से मिलते जुलते है| जैसे इसे करने से तनाव दूर होता है, इससे अवसाद नहीं होता| आप अच्छी नींद ले पाते है| जो लोग ध्यान करते है उन्हें हमेशा अच्छा महसूस होता है| पानी में ध्यान करने से एरोबिक्स के फायदे मिलते है| यदि आप भी यह फायदे चाहते है तो पानी में ध्यान का अभ्यास करने आप खुद अपने अन्दर फर्क महसूस करेंगे|

You may also like...