एक्ने (मुहांसो) की समस्या से निजाद पाने के लिए अपनाये यह 4 योगासन

हर कोई चाहता है की उसका चेहरा सुन्दर और दाग रहित हों। लेकिन मुहांसे और एक्ने की समस्या के चलते यह चाहत पूरी नहीं हो पाती है| चाहे कोई महिला हो या पुरुष हर किसी को लाइफ में एक बार एक्ने की समस्या से गुजरना पढता है| इसकी समस्या ज्यादातर 18 से 23 साल की उम्र में होती है| मुहांसे हमारे चेहरे पर होने वाली छोटी छोटी फुंसिया है| वही एक्ने इसका बढ़ा हुआ रूप है| ये एक्ने की समस्या भले ही ठीक हो जाती है लेकिन चेहरे पर दाग धब्बे छुट जाते है| जिसके चलते चेहरे की सुंदरता खत्म हो जाती है|

लेकिन यदि हमारी त्वचा और शरीर स्वस्थ हो तो मुहांसे की समस्या होती ही नहीं है| किन्तु जानकारी के अभाव के चलते लोग अपना ध्यान नहीं रख पाते है| दरहसल मुहांसो की समस्या हार्मोनल बदलाव के कारण होती है| या फिर किसी की त्वचा अत्यधिक तेलीय हो तब भी यह समस्या होती है|

वैसे तो इस समस्या से निपटने के लिए लोग डॉक्टर का सहारा लेते है| लेकिन मुहांसो की समस्या को ठीक करने के लिए दवाइयों का सेवन ठीक नहीं है| दवाइयों के सेवन से कुछ लोगो के मुहांसे तो ठीक हो जाते है| लेकिन इसके कई और साइड इफेक्ट्स देखने को मिलते है जैसे मासिक धर्म में अनियमितता, कोलेस्ट्रोल का बढ़ना, लिवर संबंधी समस्याए आदि|

इसलिए बेहतर है की इस समस्या से मुक्ति पाने के लिए हम योग को अपनाये| योग की मदद से हमारा शरीर स्वस्थ्य बनता है| जिससे की हमें मुहांसो की समस्या होती ही नहीं है| तो आइये जानते है Yoga for Acne in Hindi.

Yoga for Acne in Hindi – एक्ने की समस्या से पाये छुटकारा

Yoga for Acne in Hindi

त्रिकोणासन – Triangle Pose

एक्ने की समस्या से निजाद पाने के लिए त्रिकोणासन फायदेमंद योग आसन है| इसे करने से शरीर का रक्तं संचार ठीक होता है| जिसके चलते मुहांसो की समस्या नहीं होती और चेहरे पर ग्लो भी आता है|इसके अभ्यास से शरीर भी मजबूत बनता है।

इसे करने का तरीका

  • त्रिकोणासन करने के लिए दोनों पैरों के बीच मे गैप देते हुए सीधे खड़े हो जाएं।
  • फिर अपने दोनों हाथों को कंधों के समानांतर उठाएं।
  • इसके बाद दाये हाथ को दाये पैर के पंजों से छूने की कोशिश करें और फिर सीधे हो जाएं।
  • फिर अपने सिर को ऊपर की ओर उठाएं।
  • यही प्रक्रिया बाएं हाथ और बाएं पैर के पंजों से भी दोहराएं|

धनुष मुद्रा – Bow Pose

यह आसन शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है| इस आसन में गहरी और लम्बी साँसे ली जाती है, जिससे की शरीर को अधिक मात्रा में ऑक्सीजन मिलती है| यह आसन चेहरे का रक्त परिसंचरण बढ़ाता है| जिसके चलते एक्ने जैसी समस्या से निजाद मिलती है|

धनुरासन करने का तरीका

  • इसे करने के लिए एक स्वच्छ और समतल जगह पर एक दरी बिछाकर पेट के बल लेट जाए।
  • अब पैरों को घुटनों में मोड़कर एडियों को हिप्स पर ले आए।
  • दोनों पैरो के टखनों को हाथों से पकडे और हाथों को सीधा रखते हुए पैरों को पीछे की खिचे|
  • यह क्रिया करते वक्त कूल्हों को ऊपर उठाना हैं और श्वास अंदर लेना हैं।
  • दोनों घुटनों साथ में रखने की कोशिश करे|
  • इस वक्त सिर और जांघो को जमीन से जितना ऊपर कर सकते है अपनी क्षमता अनुसार करें।
  • इस क्रिया को 15 सेकंड से लेकर अपनी क्षमतानुसार 10 से 20 सेकंड तक करे|
आप यह भी पढ़ सकते है:- सेहत और सौंदर्य दोनों के लिए फायदेमंद है शीर्षासन योग का अभ्यास

पश्चिमोत्तानासन – Seated Forward Bend

Seated Forward Bend Yoga आपके चेहरे की मांसपेशियों में तनाव को कम करने में मदद करता है| बैठकर आगे झुखने से आपके शरीर को तनाव से राहत मिलती है और आपकी त्वचा सांफ होती है|

पश्चिमोत्तानासन करने का तरीका

  • सबसे पहले चटाई बिछाकर पीठ के बल लेट जाएं और दोनों पैरो को फैलाकर रखें।
  • दोनों पैरों को आपस में परस्पर मिलाकर रखें तथा अपने पूरे शरीर को बिल्कुल सीधा तान कर रखें।
  • फिर दोनों हाथों को सिर की ओर ऊपर जमीन पर टिकाएं।
  • अपने दोनों हाथों को ऊपर उठाते हुए एक झटके के साथ कमर के ऊपर हिस्से को उठा लें।
  • फिर धीरे-धीरे अपने दोनों हाथों से पैरों के अंगूठों को पकड़ने की कोशिश करें। इस वक्त पैरों तथा हाथों को बिल्कुल सीध में रखे|
  • यदि आपको इस आसन को लेट कर करने में परेशानी हो तो, इस आसान को बैठे बैठे भी किया जा सकता है।
  • यह करते समय अपनी नाक को छूने की कोशिश करें।
  • इस क्रिया को 1 बार पूरी करने के बाद 10 सैकेंड तक आराम करें और पुन: इस क्रिया को दोहराएं|
  • यह आसन 3 बार ही करें। इस आसन को करते समय सांस सामान्य रूप से ले और छोड़ें।

हस्तपादोतासना- Standing Forward Bend

तनाव से राहत दिलाने के अलावा, यह आसन शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकलवाने में मदद करता है| यह आसन आपकी त्वचा के रक्त के प्रवाह में वृद्धि करता है और आपकी त्वचा को चमक देता है|

हस्तपादोतासना करने का तरीका

  • अपने पैरो को दूर दूर रखकर सीधे खड़े हो जाये|
  • अब अपने दोनों हाथो को आगे और पीछे की और स्ट्रेच करे| इस बात का ख्याल रहे की आपकी रीढ़ की हड्डी में खिचाव महसूस हो|
  • धीरे धीरे निचे की और झुखे| जब तक आपकी हथेलिया जमीं को छुए और सर घुटनो पर|
  • इस मुद्रा में कुछ देर रुके, फिर नार्मल अवस्था में वापिस आ जाये|

ऊपर आपने जाना Yoga for Acne in Hindi. यदि आप भी एक्ने की समस्याओ से छुटकारा पाना चाहते है तो ऊपर दिए गए आसनो को जरूर अपनाये|

Related Post

Anantasana – विष्णु आसन कैसे करें और इसके क्... विष्णु आसन का नाम भगवान विष्णु के नाम पर रखा गया है।इसे  अनंत  आसन के नाम से भी जाना जाता है। जिसमे अनंत का अर्थ यानी जिसका अंत न हो और आसन यानी योग म...
Bhadrasan: शरीर को सुन्दर और निरोगी बनाने में सहाय... भद्रासन को अंग्रेजी भाषा में Gracious Pose कहा जाता है। भद्रासन दो शब्दों से मिलकर बना है भद्र और आसन, जिसमे भद्र का अर्थ होता है सुन्दर और शालीनता तथ...
भुजंगासन योग – जानिए विधि, लाभ और सावधानियाँ... रोजमर्रा की इस जिंदगी में अधिकतर लोग कमर और पीठ दर्द की समस्या से परेशान है| वैसे तो यह आम समस्या है लेकिन कई बार ध्यान नहीं दिए जाने पर यह समस्या बहु...
Padam Lolasana: अंगुलियों, कंधो और बाजुओं को मजबूत... हमने आपको पिछले लेख में लोलासन और उसके एक प्रकार उत्थित लोलासन के बारे में जानकारी दी थी। आज हम आपको उसके दूसरे प्रकार के बारे में बता रहे है जिसका ना...
Vyaghrasana Yoga: तनाव दूर कर एकाग्रता बढ़ाने में म... आजकल मशीनरी काम बढ़ते जा रहे है, जिससे इंसान की फिजिकल मेहनत कम हो गयी है| जितना काम होता है पूरा दिमाग से ही होता है| दिन भर कंप्यूटर के सामने बैठक...
Rajakapotasana – पाचन तंत्र सुधारे व साइटिका... राजाकपोतासन का अर्थ होता है कबुतरो का राजा। इस आसन में शरीर की मुद्रा कबूतर के समान होती है और साथ ही छाती को चौड़ा रखा जाता है। इसलिए आसन को किंग पिजन...

You may also like...