जानिए शरीर से विषैले पदार्थ निकालने के लिए प्रभावशाली योगासन

comment 0

आज की जिंदगी में हर कोई खूबसूरत और फिट दिखना चाहता है, लेकिन व्यस्तता के कारण खुद के लिए समय निकाल पाना बहुत ही मुश्किल हो जाता है। शरीर से बेमतलब की चर्बी हटाने के लिए शरीर से रासायनिक पदार्थो का बहार निकलना जरुरी है| इस प्रोसेस को डिटॉक्सीफिकेशन कहा जाता है|

इससे ना केवल आपके शरीर से वजन कम होता है बल्कि इसके आपको कई फायदे मिलते है| पहला तो यह की इससे ताजगी और स्फूर्ति मिलती है, और दूसरा यह की इससे कई बीमारियो से निजाद मिलती है| बॉडी से विषाक्त पदार्थ बाहर निकालने के कई तरीके है| लेकिन सही तरीका अपनाना बहुत जरुरी है|

कई लोग इसके लिए कुछ दिनों तक के लिए खाना पीना छोड़ देते है, और सिर्फ फलों का जूस पीते है| लेकिन यह सही नहीं है| इस तरह से भूखे रहने से शरीर में बहुत कमजोरी आ जाती है| और कई लोग तो बीमार भी पढ़ जाते है| इसलिए बेहतर होगा की शरीर को साफ़ करने के लिए आप योग का सहारा ले|

तो आज हम आपको कुछ ऐसे योगा पोसेस बताएँगे जो ना केवल आपकी बॉडी को डिटॉक्स करेगा बल्कि इससे आपको तनाव से भी राहत मिलेगी| वैसे तो इन योग आसनो को करना बेहद ही सरल है, लेकिन इनको सही तरीके से करना आपको आना चाइये। तो चलिए जानते है, Yoga for Detoxification in Hindi.

Yoga for Detoxification in Hindi- शरीर को डिटॉक्‍स करने वाले योग

Yoga for Detoxification in Hindi

अधो मुख शवासना – पाचन क्रिया सुचारू करे

अधो मुख शवासना को डॉउनवर्ड डॉग पोज़ भी कहा जाता है, इस आसान को करने से रक्त का प्रवाह सुचारू रूप से काम करने लगता है, साथ ही इस आसान को करने से आपकी रीढ़ की हड्डी मजबूत और लचीली बनती है। इसे करने से पाचन क्रिया सही होती है और मेटाबोलिज्म बढ़ता है। इस आसान की खास बात यह है की यह शरीर के विषैले पदार्थो को बाहर करने वाला सबसे प्रभावशाली योग क्रिया है|

मरिचियासन – रक्त संचार बेहतर बनाये

यह आसान शरीर के लिए बेहद ही लाभदायक होता है, इसको करने से शरीर के सभी अंग सही तरीके से काम करने लगते है, और पाचन क्रिया अच्छी होती है। इस आसान को करने से शरीर में रक्त संचार अच्छी तरह से होता है, और विषैले तत्व बहार निकल जाते है।

आप यह भी पढ़ सकते है:- कपालभाति प्राणायाम – सुंदरता बढाने और वजन घटाने में फायदेमंद

फायदेमंद है विपारिता करनी आसान

शरीर से विषैले तत्व बाहर निकालने के लिए विपारिता करनी आसान भी बेहतर विकल्प है| आपने शायद इस आसान का नाम ना भी सुना हो| तो अब इस आसान को जानकर इससे लाभ जरूर उठाये| इस आसान में पीठ के बल खड़ा होना होता है और पैरो को दिवार के सहारे टिका कर बॉडी का बैलेंस जमाना होता है, निश्चिंत रहिये इससे आपके पेट पर जोर नहीं पड़ेगा। इससे करने से रक्त और लिम्फ का संचार अच्छी तरह से होता है, और शरीर में ब्लड सर्कुलेशन सुधरता है|

अन्य आसान इन्हे भी जाने:- 

परिवृीट्टा मरिचासाना: यह आसन भी उन आसनो में से एक है, जिसको करने से शरीर के विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते है| इसको करने के लिए अपने पैरों को सीधा करके दीवार के सहारे खड़ा होकर पैरों को घुटनों से मोड़ा जाता है और दोबारा दाएं हाथ को दीवार के सहारे लगाते हुए बांए हाथ से बॉडी को बैलेंस करना होता है|

परिवृीट्टा पार्श्वकोनासाना: इस आसन से शरीर के रक्त में बढ़ोतरी होती है, और पाचन क्रिया भी सही रहती है। लेकिन इस आसन को करने के कुछ नियम है, वो यह की इसे अगर सही तरीके से नहीं किया जाये तो इसक दुष्प्रभाव आपके शरीर पर भी पड़ सकता है, इसलिए इस योग को करते समय ध्यान से करे| यह लाभकारी पोज आपके मेटाबोल्जिम को दुरूस्त रखता है, और फेफड़ो को भी इससे ताकत मिलती है।

रैबिट पोज आसन: रैबिट पोज आसन (सासांगासना) को करने का तरीका खरगोश की तरह होता है|
इस आसान को पीछे की और झुककर किया जाता है, इसको करने से इम्युन सिस्टम और पीठ की हड्डिया मजबूत होती है, साथ ही एंड्रोक्राइन सिस्टम भी मजबूत हो जाता है। और शरीर से विषाक्त पदार्थ भी बाहर निकलते है।

सालाम्बा सर्वांगसाना: यह योग आपके लिए बेहद ही फायदेमंद है, इस आसन में शरीर को कंधों के बल पर नियंत्रित किया जाता है। और पीछे की और झुकते है, और हाथो को कमर पर रख लिया जाता है| इसे करने से रीढ़ की हड्डियों पर प्रभाव नहीं पड़ता है| बॉडी को डिटॉक्स करने के लिए यह एक प्रभावशाली योग क्रिया है| इसका एक यह भी फायदा है की इससे कार्डियोवस्कुलर सिस्टम भी तंदरुस्त रहता और शरीर को आराम भी मिलता है।

ऊपर आपने जाना Yoga for Detoxification in Hindi. इन योग क्रियाओ को करने से हमारे शरीर के लीवर, किडनी जैसे अंग और नसों में जमे हुए विषाक्त तत्व बाहर निकल जाते है| और गंभीर बीमारिया होने का खतरा नहीं रहता है|

 

Related Post