बढ़ता वजन और मोटापा घटाने में मददगार है योग का अभ्यास

comment 0

मोटापे की वजह से आज हर व्यक्ति के मन मे डर सा बना रहता है, कि कहीं बढ़ता हुआ मोटापा उनकी खूबसूरती कम ना करदे| मोटापा शरीर के लिए बीमारी का घर बनता जा रहा है| मोटापा शरीर में होने वाली चर्बी होती है जो हमारे वजन को बढ़ाती है| यह एक सामान्य समस्या बनता जा रहा है| इससे पेट, पीठ कमर और कंधे की समस्या भी बनी रहती है| जो धीरे-धीरे कई बीमारियों को शरीर में बढ़ावा देती है|

इस चर्बी से छुटकारा पाने के लिए लोग कई तरह के जतन करते है कोई सुबह सुबह पार्क में दौड़ता नज़र आता है तो कोई जिम में कसरत करता हुआ मगर यह मोटापा हे की जाने का नाम ही नहीं लेता है| यही नहीं, अपने मोटापे को लोगों की नजर से बचाने के लिए बड़े साइज के कपड़े खरीदते है| लेकिन यह कोई स्थाई समाधान नहीं है|

डॉक्टरों के अनुसार जिन व्यक्तियों का BMI बॉडी मास इंडेक्स 25 से 29.9 के बीच होता है, उन्हें ओवरवेट या अधिक वजनदार कहा जाता है| दूसरी और जब BMI 30 या उससे अधिक होता है तो इस स्थिति को मोटापा कहा जाता है|

अगर आप भी अपने मित्रों और रिश्तेदारों की तरह अपने शरीर को वजन मुक्त करना चाहते है तो अपनी दिनचर्या में योग को जगह दे| आज हम आपको बता रहें है Yoga for Obesity in Hindi की विस्तृत जानकारी|

Yoga for Obesity in Hindi: योग करें और वजन घटाएं

Yoga for Obesity in Hindi

योग बहुत ही लाभकारी और स्वास्थ्य वर्धक व्यायाम होता है| हम सभी जानते है कि योग व्यायाम का एक ऐसा तरीका है जिसके जरिये मनुष्य शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत तो बनता है ही साथ ही हमारी आत्मा को शुद्ध भी करता है| इससे आपके पेट के वसा को कम करने में में मदद मिलेगी और आपकी मांसपेशिया मजबूत होंगी| अब हम कुछ आसान Fat Burning Yoga के बारे में जानेंगे|

भुजंगासन

यह आसन करते समय शरीर का आकार फन फैलाये सर्प के समान होता है इसलिए इसे भुजंगासन कहते है| इसके करने से पेट की चर्बी तो कम होती है ही साथ ही कंधे, कमर और हाथों की मांसपेशिया भी मजबूत होती है और शरीर लचीला बनता है| इस आसान की विधि इस प्रकार है-

  1. समतल जमीन पर आसन बिछाकर पेट के बल लेट जायें|
  2. अपनी हथेलियों को कंधे के नीचे जमीन पर रखें|
  3. अब धीरे-धीरे सिर और कंधो को ऊपर उठाइये|
  4. अब दोनों भुजाओं को कंधों के समानांतर रखे, जिससे शरीर का भार बाजुओं पर पड़े|
  5. अब नाभि को जमीन से लगाकर, पीठ को पीछे की तरफ झुकाना है|
  6. अब इस स्थिति में 23-30 सेकंड तक रहे और सामान्य सांस लेते रहे|
  7. कुछ समय पश्चात वापस पेट के बल लेट जायें|

बलासन

इस मुद्रा को बच्चों की मुद्रा के नाम से भी जाना जाता है| यह कमर, घुटने और जांघ की मांसपेशियों के तनाव और पेट के वसा को कम करता है| इस आसान की विधि इस प्रकार है-

  1. जमीन पर घुटनों के बल बैठ जाये, जिससे शरीर का भार एड़ियों पर आ जाये|
  2. गहरी सांस लेते हुए आगे की और झुके|
  3. अब माथे को फर्श से छूने की कोशिश करें, इस अवस्था में आपका सीना जांघों को छूना चाहिये|
  4. कुछ समय ऐसी अवस्था में रहे|
  5. शरीर के साथ जबरदस्ती न करे, जितना आप आसानी से झुक पाये उतना ही झुके, कुछ समय के अभ्यास के बाद आप ऐसा करने में कामयाब होंगे|
आप यह भी पढ़ सकते है:- पीठ दर्द और कमर दर्द में बेहद फायदेमंद है मकरासन का अभ्यास

पश्चिमोत्तानासन

पश्चिम अथार्त पीछे का भाग मतलब पीठ| पीठ में खिचाव उत्पन्न होना, इसलिए इसे पश्चिमोत्तानासन कहा जाता है| इस आसन को करने से शरीर की सभी मांसपेशियों में खिंचाव पड़ता है| यह वजन कम करने और पेट की चर्बी को कम करने का बहुत ही प्रभावी आसन है| इस आसान की विधि इस प्रकार है-

  1. जमीन पर चटाई बिछाकर पीठ के बल लेट जाएं|
  2. दोनों पैरों को फैलाकर आपस में परस्पर मिलकर रखें|
  3. अपने शरीर को सीधा तानकर रखें|
  4. अब अपने दोनों हाथों से पैर के अंगूठे को पकड़ने की कोशिश करें|
  5. ध्यान रहे ऐसा करते समय आपके घुटने मुड़ना नहीं चाहिए और ना ही पेरो को ऊपर उठाये|
  6. कुछ समय इस अवस्था में रहने के बाद सामान्य स्थिति में आ जाएं|

यह सभी Yoga for Fat People के लिए है जो अपने बढ़ते वजन और तोंद की वजह से परेशान है| यदि आप मोटे है और बिना जिम जाये अपना वजन कम करना चाहते है तो आप भी Yoga for Obesity in Hindi की मदद से ऐसा कर सकते है|

Related Post