धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने के लिए करें ये योगासन

धूम्रपान करना जानलेवा है हर कोई इस बात से भलीभांति परिचित है यहाँ तक की खुद धूम्रपान करने वाले भी| धूम्रपान करने से कैंसर होता है, इससे फेफड़े ख़राब होते है, साथ ही इससे दिल की कई बीमारिया होने का खतरा भी रहता है| लेकिन इसके बावजूद भी इसकी लत से पीछा छुड़ाने में सभी लोग बेहद लाचार साबित होते हैं।

वे लोग कई बार इसके लिए कोशिश करते है, किन्तु नाकाम हो जाते है| यहाँ तक की बहुत से प्रोडक्ट्स भी इसकी लत छुडवाने का दावा करते है लेकिन फिर भी कुछ खास परिणाम सुनने को नहीं मिले है|

आपको शायद अंदाजा ना हो लेकिन तम्बाकू का सेवन करने से लगभग 6 मिलियन लोग हर साल मर जाते है| ऐसा कहा जाता है की इसे ना छोड़ पाने का सबसे बड़ा कारण लो विल पॉवर है| योग की मदद से धूम्रपान की लत से छुटकारा पाया जा सकता है| आइये जानते है Yoga for Quitting Smoking in Hindi.

Yoga for Quitting Smoking in Hindi: धूम्रपान छोड़ने के लिए

Yoga for Quitting Smoking in Hindi

बहुत से लोग धूम्रपान करना शुरू तो कर देते है, लेकिन अपने काम और पर्सनल लाइफ में चल रहे स्ट्रेस के कारण उसे छोड़ नहीं पाते है| धूम्रपान से निजात पाने के लिए अपने मन पर काबू पाना जरुरी है अर्थात आपकी इच्छाशक्ति प्रबल होना बहुत जरुरी है| यदि आप सच में धूम्रपान छोड़ना चाहते है तो योग इसमें आपकी मदद कर सकता है|

योग इसमें प्राकृतिक रूप से मदद करता है| Natural Ways to Quit Smoking में योग से बढ़कर कुछ नहीं है| योग धूम्रपान के कारण हुए दुषपरिणामो को भी दूर करता है|

कपालभाति

कपालभाति का अभ्यास रक्त के संचार में सुधार करता है, इससे आपका तंत्रिका तंत्र ऊर्जावान बनता है| यह  मस्तिष्क की कोशिकाओं को फिर से जीवंत करता है तथा यह साँस लेने वाली तकनीक करके मन को शांत करने में मददगार है|

यह प्राणायाम नाड़ियो को भी साफ करता है| यह धूम्रपान करने की इच्छा के विरोध में मदद करता है।

भसीदा प्राणायाम

भसीदा प्राणायाम का नियमित अभ्यास रक्त के स्राव में सुधार करता है| इससे तंत्रिका तंत्र मजबूत बनता है| जिन लोगो को सिगरेट पीने की लत रहती है उन्हें इसका अभ्यास जरुर करना चाहिए|

भुजंगासन

इस आसन को करते वक्त शरीर का आकार फन उठाए हुए सर्प के समान दिखाई देता है इस कारण इसे ‘भुजंगासन’ कहा जाता हैं| बहुत से लोग बहुत तनाव में रहते है, जिसके कारण वो सिगरेट आदि पीते है, लेकिन भुजंगासन तनाव को दूर करता है| इसलिए इसे करने से फायदा मिलता है|

यह आसन थकान को दूर करने में भी फायदेमंद है| इससे रक्त के संचार में मदद मिलती है| यह सांस की बीमारियों के लिए भी बहुत अच्छा है|

आप यह भी पड़ सकते है:- तनाव और थकान से निजात दिलाने में फायदेमंद है योग निद्रा

त्रिकोणासन

आपने हमेशा त्रिकोणासन का लाभ पेट की चर्बी कम करने के लिए सुना होगा| इससे आपके शरीर के विभिन्न भागों को मजबूती मिलती है। लेकिन हम आपको बताना चाहते है की यह मानसिक संतुलन बनाने में भी मदद करता है। इससे चिंता और तनाव दूर होता है जिसके चलते आप अपनी धूम्रपान करने की इच्छा पर काबू कर सकते है|

शवासन योग

शवासन योग का अभ्यास आप सबसे अंत में करे| यह आपको ध्यान की अवस्था में ले जाता है| इसे करने से आपको तनाव से राहत मिलती है और आराम की अनुभूति होती है| यह आसन रक्त दबाव और चिंता दोनों कम करता है।

शवासन की विधि इस प्रकार है:-

  1. शवासन का अभ्यास करने के लिए साफ़ सुथरी जगह का चुनाव करे और उस पर दरी या चटाई बिछा ले|
  2. अब आप अपनी पीठ के सहारे लेट जाएं| साथ ही इस बात का ख्याल रखे की इस अवस्था में आपके पैर ज़मीन पर बिल्कुल सीधे रहने चाहिए|
  3. अपने हाथो को भी सीधा रखे, और हाथ की हथेलियां आसमान की दिशा में होना चाहिए|
  4. हाथों को शरीर से चिपकाना नहीं है, हाथो को कम से कम 5 इंच की दूरी पर रखें।
  5. अब आपको आपके शरीर के हर अंग को बिलकुल ढीला छोड़ना है| साथ ही आँखे भी बंद कर ले|
  6. इसके पश्चात हल्की-हल्की साँसे लें और आपका पूरा ध्यान श्वांसों पर ही होना चाहिए।
  7. आपके मन में किसी भी तरह का विचार नहीं आना चाहिए|
  8. अगर आपको शवासन करते वक्त कमर या रीढ़ में किसी भी प्रकार दर्द या अन्य परेशानी महसूस होती है तो आप घुटने के नीचे तकिया रख ले|

ऊपर आपने जाना Yoga for Quitting Smoking in Hindi. योगासन करने से धूम्रपान का प्रभाव कम होता है|  साथ ही साथ इससे फेफड़ों की दशा में सुधार भी होता है। इसलिए यदि आप भी धूम्रपान की लत का शिकार है तो बिना देर किये आप योग की शुरुवात करे| इसके फायदे प्रभावशाली है इसलिए ही इसे पूरा विश्व अपना रहा है|

You may also like...