Anti Aging Yoga Poses – आपकी त्वचा को लम्बे समय तक जवां बनाये रखे

जैसे जैसे उम्र बढ़ती है व्यक्ति के चेहरे पर कई सारे परिवर्तन आते जाते है|जैसे की चेहरे पर झुर्रियों का आना, आँखों के नीचे डार्क सर्कल्स का होना, झाइयां और त्वचा की रंगत खोना आदि प्रकार की समस्याएं होने लगती है|

इन समस्याओं के कई कारण हो सकते है|आजकल की भागदौड़ भरी लाइफ,अनियमित लाइफ स्टाइल,थकान और तनाव का होना आदि समस्याएं इनका कारण हो सकती है|

लोग इनको दूर करने के लिए कई प्रकार के उपाय अपनाते है|साथ ही पार्लर में भी अपना समय देते है|पर कुछ दिनों के बाद वही स्थिति आ जाती है|

योग इसके लिए एक कारगर उपाय होता है|इससे बहुत हद तक एजिंग की समस्याओं को दूर किया जा सकता है और इसके लिए ज्यादा समय और पैसे देने की भी आवश्यकता नहीं होती है|इसे करके आप कुछ ही समय में उम्र के लक्षणों को दूर कर सकते है|जानते है कुछ Anti Aging Yoga Poses जो इसके लिए लाभकारी होते है|

Anti Aging Yoga Poses: योग से उम्र के लक्षणों को घटाए

Anti Aging Yoga Poses

फिश पोज

  • यह आसन चेहरे के लिए बहुत ही लाभकारी होता है|
  • इस आसन में गालों को अंदर खींचकर चेहरे को मछलीनुमा बनाना होता है|
  • फिश पोज द्वारा झुर्रियों को रोका जाता है साथ ही मांसपेशियों में कसावट आती है|
  • यह सांस से सम्बंधित समस्याओं का निवारण करता है और गहरी लंबी सांस लेने में सहायता करता है|

सिंहासन

  • इसे लायन पोज़ भी कहा जाता है|
  • इस आसन में अपनी जीभ को पूरी ताकत से बाहर निकाल कर आँखों को तान लेना होता है| जिस प्रकार एक शेर करता है|
  • ऐसा करने से चेहरे की त्वचा में कसाव आता हैं|
  • यह आसन चेहरे और छाती क्षेत्र पर तनाव कम कर देता है|
  • बुढ़ापे की प्रक्रिया के दौरान अपनी दृढ़ता बनाए रखने के लिए यह एक बेहतरीन आसन है|
  • यह झुर्रियां हटाने और उम्र बढ़ने में विलंब करने में मदद करता है|

हस्तपादासन

  • यह आसन तंत्रिका तंत्र को सक्षम बनाता है|
  • रीढ़ की हड्डी को मज़बूत बनाता है|
  • इस आसन द्वारा उदर के अंग भी सक्रिय होते है|

कपालभाति प्राणायाम

  • कपालभाति प्राणायाम का नियमित अभ्यास चेहरे को चमक देता है|
  • यह आँखों से तनाव हटाता है और डार्क सर्कल्स को कम करता है|
  • कपालभाति प्राणायाम दिमाग को बढ़ाता है और स्मृति को सुधारता है|
  • शरीर में प्राण के प्रवाह में सुधार करने में सहायक होता है|

अधोमुख श्वान आसन

  • इस आसन द्वारा रक्त परिसंचरण में सुधार होता है|
  • अधोमुख श्वान आसन को करने से पाचन में सुधार होता है, जो उम्र बढ़ने पर अक्सर प्रभावित होता है|
  • इस आसन को करने से चिंता दूर होती है और चेहरा खिला दीखता है|
  • इसके अतिरिक्त जीभ पोज,बुद्धा पोज,नैक स्ट्रेचिंग,वीरभद्रासन और धनुरासन भी कर सकते है।

You may also like...