बिक्रम योगा: शरीर को लचीला बनाये और चुस्ती-स्फूर्ति लाये

Go to the profile of  Yogkala Hindi
Yogkala Hindi
1 min read
बिक्रम योगा: शरीर को लचीला बनाये और चुस्ती-स्फूर्ति लाये

आज योग को पुरे विश्व में अपनाया जा रहा है| योग का अभ्यास हमारे अच्छे स्वास्थ्य की कुंजी है| योग हमारे शरीर के कार्य को सही कर कई शाररिक समस्याओ को ठीक कर देता है| योग से तनाव दूर होता है जिसके चलते योग करने वाले व्यक्ति में सकारात्मकता आती है|

योग से ना केवल अच्छे स्वास्थ्य का तोहफा मिलता है बल्कि सुन्दरता भी आती है| शरीर का शेप अच्छा बनता है, चेहरे पर ग्लो आता है, बाल झड़ना बंद होते है आदि| योग के अंतर्गत आने वाले कई आसन कई तरह के लाभ पहुचाता है|

कुछ आसन शरीर की चर्बी घटाते है, कुछ आसन रक्त का प्रवाह ठीक करते है, कुछ आसनों को करने से तनाव दूर होता है आदि| लेकिन इस भागदौर भरी जिंदगी में हर किसी के पास इतना वक्त नहीं है की हर चीज़ का लाभ पाने के लिए कई आसन करे|

इस समस्या का निदान प्रसिद्ध योग गुरु श्री बिक्रम चौधरी जी ने किया| 1990 में इन योग गुरु ने एक ऐसी योग क्रिया बनाई, जिससे आपको कई योग क्रियाओ का लाभ मिल सके| इस सम्मिलित योग क्रिया का नाम भी योग गुरु बिक्रम चौधरी के नाम पर ही बिक्रम योगा रखा गया| आइये आज के लेख में विस्तार से जानते है Bikram Yoga in Hindi.

Bikram Yoga in Hindi – जानिए बिक्रम योगा की विधि और लाभ

Bikram Yoga in Hindi

बिक्रम योगा, योग की कोई स्पेशल ब्रांच नहीं है| बल्कि कुछ आसनों का संग्रह है| दरहसल बिक्रम जी ने योग आसनों को एक साथ मिलाकर 90 मिनट का एक योग सत्र बनाया है जिसे बिक्रम योग कहा जाता है| यह योग सत्र का अभ्यास आपके शरीर के अंगो को स्वस्थ और क्रियाशील बनाने में मददगार है|

90 मिनट के इस योग सत्र को कमरे के अन्दर किया जाता है और उस का तापमान चालीस डिग्री सेंटीग्रेड या उससे भी कुछ ऊपर रखा जाता है| ऐसा इसलिए किया जाता है की जब भी इस योग को किया जाये तब बहुत ज्यादा पसीना आये| यह योग क्रिया को बहुत अधिक गरम वातावरण में किया जाता है इसीलिए इसे हॉट योगा के नाम से भी जाना जाता हैं|

बिक्रम योगा के अन्दर निम्नलिखित 26 योग आसन आते है:- 

  1. प्राणायाम (गहरी श्वास प्रक्रिया)
  2. अर्द्ध चंद्रासन
  3. उत्कट आसन
  4. गरुड़ आसन (ईगल मुद्रा)
  5. जनुशिरासन
  6. दंडयमना धनुरासन
  7. तुलादंड आसन
  8. पश्चिमोतोनासन
  9. त्रिकोणासन (त्रिभुज मुद्रा)
  10. विभाक्तपद-जनुशिरासन
  11. ताड़ासन (ट्री मुद्रा)
  12. पदुन्गास्तासन
  13. सवासन
  14. पवनमुक्तासन
  15. बैठना-खड़ा होना
  16. भुजंगासन (कोबरा पोज)
  17. शलभासन
  18. पूर्ण-शलभासन
  19. धनुरासन (बो मुद्रा)
  20. सुप्त-वज्रासन
  21. अर्द्ध-कुर्मासन
  22. उस्तासन (ऊंट मुद्रा)
  23. शशकासन
  24. जानुशिरासन के साथ पश्चिमोतोनासन
  25. अर्द्ध-मत्स्येन्द्रासन
  26. कपालभाती

Bikram Yoga Benefits: बिक्रम योगा के लाभ

  • इस योग क्रिया को करने से पसीना आता है| इसलिए वजन घटाने में भी यह मददगार है|
  • Bikram Yoga Poses के नियमित अभ्यास शरीर लचीला बनता है और स्फूर्ति आती है|
  • यह योग क्रिया शरीर को डेटॉक्स करने के लिए बहुत अच्छी है| इसे करते वक्त जब शरीर से पसीना निकलता है तो सारे विषेले पधार्थ भी निकल जाते है|
  • बिक्रम क्रिया का अभ्यास गरम स्थान पर किया जाता है जिसके चलते पुरे शरीर की सिकाई हो जाती है| इसलिए यदि मांसपेशियों में दर्द हो तो बहुत आराम मिलता है|
  • यह आपकी पुरानी चोटों को ठीक करता है और भविष्य में उन्हें होने से रोकता है|
  • इससे पेट से जुडी कई बिमारी ठीक हो जाती है, जो की अच्छे स्वास्थ्य के लिए बहुत जरुरी है|
  • इसमें 26 योग आसनों का सार है, इसलिए इसे करने से 26 आसनों के अलग अलग फायदे मिलते है|
आप यह भी पढ़ सकते है:- योग और नेचुरोपैथी – बेहतर स्वास्थ्य पाने का प्राकृतिक तरीका

बिक्रम योगा में ध्यान देने वाली कुछ बाते

बिक्रम योगा पुरे 10 मिनट का सेशन है| लेकिन इतनी देर गरम वातावारण में योगा करना खेल नहीं है| शुरुवात में आपको लगेगा की आप क्लास छोड़ के बहार चले जायेंग| लेकिन ऐसा करने के बजाय निचे बैठ जाये| मुह बंद करे, नाक से ब्रीथ इन/ आउट करे| इससे आपको 1 मिनट में रिकवर लगने लगेगा|

यदि आप बिक्रम योगा करने के लिए क्लास जा रहे है तो खुद को हाइड्रेटेड रखे| दिन में ज्यादा से ज्यादा पानी पिए| इसका मतलब यह नहीं है की आप क्लास के बहार खड़े होकर बहुत सारा पानी पी रहे| बल्कि आपको बहुत पहले से ही पानी पीना चाहिए|

बहुत से लोग इसे करते वक्त क्लास में भी पानी पीते है| लेकिन इसे करते वक्त पानी नहीं पीना चाहिए, जरुरत महसूस हो तो पी सकते है| लेकिन बेवजह नहीं पिए क्योकि इससे आपके पेट पर बुरा असर पढता है|

हमेशा क्लास वक्त पर जाये और नए लोग तो खासकर| इससे आपको अन्दर जाने, कपडे बदलने, अपनी चटाई बिछाकर उस पर बैठने के लिए समय मिल जायेगा| साथ ही आप अपने टीचर से भी इंटरैक्ट कर सकते है| क्योकि यदि आपको चोट या कोई अन्य परेशानी हो तो आपका टीचर आपको उस अनुसार ट्रेन करेगा|

ऊपर आपने जाना Bikram Yoga in Hindi. जो लोग बिक्रम योगा का सही प्रकार से अभ्यास करते है उन्हें उनकी जिंदगी में शारीरक समस्या होने का खतरा बहुत कम होता है| क्योकि योग में इतनी शक्ति है की यह आपके शरीर के सभी फंक्शन सुचारू कर देता है|