तनाव से राहत दिला कर मानसिक शांति प्रदान करता है डॉलफिन पोज़

Go to the profile of  Yogkala Hindi
Yogkala Hindi
1 min read
तनाव से राहत दिला कर मानसिक शांति प्रदान करता है डॉलफिन पोज़

आज हम आपको डॉलफिन पोज़ के बारे में बता रहे है| इसमें शरीर का आकार थोडा थोडा पप्पी की तरह दीखता है| यह एक स्टैंडिंग पोस है| यह पोस खासकर शरीर के उपरी हिस्से पर काम करता है जैसे की कंधे, अपर बेक और पेट|

यदि इसे करते वक्त शरीर के आकार को देखे तो यह अंग्रेजी के शब्द वी को उल्टा करने पर जैसा दीखता है| इसमें आपके हाथ और पैर के पंजे दोनों जमीन पर होते है| यदि आपको अपने कंधे की मसल्स को खोलना है तो उसके लिए यह पोस बहुत फायदेमंद है|

डॉलफिन पोज़, आपके शरीर की मुख्य माशपेशियो के लिए बहुत अच्छा है| इसलिए आज के लेख में हम विस्तार से जानेंगे Dolphin Pose के बारे में|

Dolphin Pose in Hindi – जाने इसकी विधि, लाभ और सावधानिया

Dolphin Pose in Hindi

Dolphin Pose Steps in Hindi: इसे करने की विधि

  • Dolphin Yoga Pose करने के लिए सर्वप्रथम किसी समतल जगह पर आसन बिछाकर खड़े हो जाये|
  • अब चित्र में दर्शाए अनुसार झूख जाये, और अपने कोहनी तक के हाथो को जमीन पर रखे|
  • अपने हाथो की उंगलियों को दूर दूर रखे|
  • घुटनों को मोडे नहीं, आपके घुटने और नितम्ब एक ही सीध में होना चाहिए|
  • इसके पश्चात बाहर की ओर श्वांस छोड़े और धीरे धीरे आराम से एड़ियों को उपर की और उठाये|
  • आपको अपने शरीर का संतुलन पैरों के पंजों पर बनाना है|
  • श्वांस छोड़ते हुए अपने नितम्बो को भी ऊपर की और उठाये|
  • आपका सर निचे की और होना चाहिए, और दोनों भुजाओ के बिच में|
  • सांस ले और इसे कुछ सेकंड्स के लिए होल्ड करे|
  • कुछ सेकंड्स इसी अवस्था में बने रहे|
  • अब धीरे धीरे घुटनों को निचे ले आये, आपके शरीर का भार आप घुटनों पर डाल सकते है|
आप यह भी पढ़ सकते है:- गोमुखासन: मधुमेह और स्त्री रोग में फायदेमंद योग

Dolphin Pose Benefits in Hindi: इसे करने के फायदे

  1. यह रजोनिवृत्ति के लक्षणों जैसे की दर्द, जलन, मूड का बदलना और सुस्ती से राहत दिलाते है|
  2. इस आसन का अभ्यास मासिक धर्म में आने वाली असुविधा से भी राहत दिलाने में मदद करता है।
  3. यह पाचन में सुधार लाने में मदद करता है इसके अतिरिक्त अस्थमा, उच्च रक्तचाप, साइटिका आदि की चिकित्सा में भी सुधार लाता है|
  4. इससे अनिद्रा, थकान और सिर दर्द से राहत मिलती है|
  5. इसका यदि नियमित रूप से अभ्यास किया जाये तो ऑस्टियोपोरोसिस को रोका जा सकता है|
  6. यह आपके मन के तनाव को दूर करता है| मानसिक शांति प्राप्त करने के लिए भी इसका अभ्यास जरुरी है|
  7. मन को शांत करने में मदद करता है और यहां तक कि हल्के अवसाद और मानसिक तनाव से राहत मिलती है।
  8. यह आपकी रीढ़ की हड्डी, पैरो और भुजाओ को लचीला बनाती है|

डॉलफिन पोस के पहले किये जाने वाले आसन

  • उत्तानासन
  • गोमुखासन
  • फलकासन

डॉलफिन पोस के बाद किये जाने वाले आसन

ऊपर आपने जाना Dolphin Pose in Yoga. भले ही यह आसन दिखने में आसान लग रहा हो लेकिन इसे करने के लिए किसी एक्सपर्ट योग गुरु की मदद जरुर ले| आपके हाथो, कंधो या पीठ में किसी भी तरह की चोट की स्तिथि में इसे न करे|