Medical Yoga: दवाओं और योग के लाभ एक साथ

आज के दौर में बीमारियों की संख्या में वृद्धि हो गयी है जिससे निजात पाने के लिए लोगो का रुझान योग की तरह अधिक हो रहा है जिसके चलते कई जगहों पर योग का प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है।

लोग योग के लाभों को जानने लगे है। जिसका फायदा लेने के लिए वह नियमित योगाभ्यास भी करने लगे है और योग के महत्व को समझने लगे है कि यह जीवन के लिए कितना महत्वपूर्ण होता है।

क्या आपने कभी यह सोचा है कि यदि जो लोग कई बीमारियों से ग्रसित है उनको दवाइयों के साथ साथ योग कराया जाए तो उनको जल्दी लाभ प्राप्त हो सकता है और इसका दुगुना असर भी होगा।

मेडिकल तकनीक के साथ योग को जोड़ा जा रहा है जिसे मेडिकल योगा का नाम दिया गया है। आइये जाने क्या है Medical Yoga.

Medical Yoga: जानिए क्या है यह योग व् इससे जुड़ी अन्य जानकारियां

Medical Yoga in Hindi

क्या है मेडिकल योगा?

  • मेडिकल योग में चिकित्सा तकनिकी जैसे एक्स-रे, सीटीस्कैन, एमआरआई, से रोगी की जाँच की जाती है फिर उसे उसके अनुसार ही आसन को करने का सुझाव दिया जाता है ।
  • मेडिकल योग में अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए उचित साँस लेने की तकनीक, दिमाग और ध्यान को शामिल किया जा रहा है।
  • कई अध्ययनों से पता चला है कि योग कई तरह से शरीर को सकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है, जिसमें रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद, मस्कलोस्केलेटल बीमारियों को सुधारने और कार्डियोवास्कुलर सिस्टम को ट्यून में रखने में मदद मिलती है।
  • मेडिकल योग से उन लोगो को भी फायदा मिलता है जो पीठ दर्द, मधुमेह और घुटने के दर्द से ग्रसित है।

क्या है मेडिकल योग केंद्र

  • आपको बता दे कि मेडिकल योग को बढ़ावा देने के लिए इसके दिल्ली में तीन केंद्र खोले गए है।
  • देश में मेडिकल योग के लगभग 23 केंद्र स्थापित किये गए है।
  • इन मेडिकल केन्द्रो में बीमारियों के उपचार के लिए योग का अभ्यास कराया जाता है।
  • योग के लिए लगने वाली आवश्यक सामग्री भी इन केंद्रों पर उपलब्ध कराई गयी है।
  • रोगी की सारी रिपोर्ट आने के बाद ही उनके रोग के अनुसार रोगी को आसन कराया जाता है ताकि दवाओं के साथ साथ योग करने से रोगी को उस बिमारी के लिए उचित लाभ मिल सके।
  • ज्यादातर इन केंद्रों पर हृदय संबंधी रोग, अस्थमा, गठिया , मधुमेह जैसे रोगों को आसानी से ठीक किया जाता है।
  • इन केन्द्रो पर सभी उम्र के व्यक्तियों के लिए आसन की सुबिधा रहती है।
  • इन केन्द्रो की खास बात यह है की एक निश्चित अवधि के बाद इन आसनो को आसानी से घर पर भी कर सकते है।
  • इन आसनो पर रोगी का खास ख्याल रखा जाता है ताकि वह पूर्ण रूप से ठीक हो सके। केन्द्रो पर उपस्थित प्रशिक्षकों को ट्रेनिंग भी उसी के अनुसार ही दी जाती है।

अन्य जानकारी

  • जिन लोगो को अपना वजन कम करना है वह भी इन केन्द्रो की मदद ले सकते है।
  • यदि आप भी उपरोक्त समस्याओं से जूझ रहे है तो इन केंद्रों की जानकारी लेकर इसका लाभ प्राप्त कर सकते है।

You may also like...