Meditation for Headache Relief: ध्यान को अपनाये और सिरदर्द को दूर भगाये

किसी न किसी कारण से लोगो को सिरदर्द की समस्या उत्पन्न हो जाती है। यह एक ऐसी समस्या है जो किसी को भी हो सकती है। कभी कभी तनाव और चिंता होने से भी सिरदर्द की समस्या हो जाती है।

सिरदर्द की समस्या से अधिकतर लोग परेशान रहते है। किसी का सिरदर्द जल्द ही ठीक हो जाता है और कुछ लोगो का दवाइयाँ लेने के बाद भी नहीं जाता है।

कुछ लोगो को सिरदर्द नियमित रूप से बना रहता है जिसके लिए वह दवाओं का भी सहारा लेते है। परन्तु ज्यादा दवाइयों के सेवन भी सेहत के लिए हानिकारक होता है।

ध्यान एक ऐसा माध्यम है जिसे करने से सिरदर्द पूर्ण रूप से दूर हो जाता है और इसके कोई भी दुष्प्रभाव भी नहीं होते है। ध्यान करने के लिए जानते है Meditation for Headache Relief के बारे में विस्तार से।

Meditation for Headache Relief in Hindi: नियमित ध्यान से पाएं सिरदर्द से निजात

5 Ways Meditation Can Naturally Cure Headaches

सिर में दर्द होने के कई कारण हो सकते है जिनको ध्यान के द्वारा ठीक किया जा सकता है जैसे:-

पर्याप्त नींद का न होना

  • ज्यादा काम के चलते, व्यस्तता के कारण भी लोगो की नींद अच्छे से नहीं हो पाती है। जिस कारण भी सिर में दर्द होने लगता है।
  • यदि आप समय निकाल कर 20 मिनट भी ध्यान करते है तो दर्द से मुक्ति पा सकते है।
  • ध्यान करने से नींद अच्छे से आती है जिसके कारण आपका दिमाग भी शांत और प्रसन्न रहता है।

तनाव और चिंता में ध्यान

  • चिंता और तनाव होने से भी सिरदर्द की समस्या बनी रहती है।
  • ध्यान करने से दोनों समस्याएं दूर हो जाती है। ध्यान चिंता और तनाव को दूर कर शरीर में स्फूर्ति लाता है।
  • इसलिए प्रतिदिन 10 से 15 मिनट ध्यान ज़रुर करे।

ज्यादा शोर का माहौल हो तो ध्यान करे

  • कुछ लोग ज्यादा शोर को भी सहन नहीं कर पाते है जिस कारण भी सिरदर्द की समस्या पैदा होती है।
  • यदि आप ध्यान करते है तो अपने आप को परिस्थिति के अनुसार ढाल सकते है। ध्यान आपको भीतर से शांति प्रदान करता है।

अधिक सोचना – ध्यान लाभ

  • ज्यादा सोचने से भी दिमाग चिंतित हो जाता है जिसके कारण दिमाग पर जोर पड़ता है और सिर दर्द शुरू हो जाता है।
  • ध्यान करने से सोचने की क्षमता का विकास होता है। जिस कारण आप परिस्थितियों को अपने अनुसार हैंडल कर पाते है। और सिर पर बोझ नहीं होता है।

थकान होने पर ध्यान

  • काम की अधिकता और भागदौड़ वाले कार्यो से भी शरीर थक जाता है। जिसके लिए ऊर्जा की आवश्यकता होती है।
  • ध्यान आपको ऊर्जा प्रदान करता है और शरीर को तरोताज़ा बना देता है जिससे आप फिर से कार्य करने में सक्षम हो जाते है।

ऊपर दिए गए कारणों के अतिरिक्त भी सिरदर्द के अन्य कारण भी होते है उन्हें भी आप ध्यान के माध्यम से दूर कर सकते है। बस आपको ध्यान रखना है की आप ध्यान को नियमित रूप से करे।

You may also like...