ध्यान (मैडिटेशन) करने से पहले इन 6 नियमो को जरुर जान ले

ऐसा कई बार होता है की हम सही गलत को पहचान नहीं पाते है| दरहसल ऐसा जब होता है जब हम अपनी अंतरात्मा की आवाज नहीं सुन पाते है और हमारा खुद पर नियंत्रण नहीं रहता| इस स्थिति में हम परिस्थितियों को नहीं बल्कि परिस्थितियां हमें नियंत्रित करने लगती है| हम वो सभी कुछ करने लगते है जो तनाव, डर और क्रोध हमसे करवाते है|

और जैसा की हम सभी जानते है आज के वक्त में अधिकतर रोगों के पीछे का कारण तनाव है| लेकिन ध्यान की मदद से आप तनाव को दूर कर सकते है| यह खुद पर नियंत्रित रखने के लिए के अच्छी सेल्फ रियलाइजेशन पद्धति है जिससे जिंदगी को आसान एंव खुशमय बनाने में मदद मिलती है|

ध्यान को करके आप खुद को सकारात्मक एंव तनावमुक्त बना सकते है क्योकि जब भी आप इसे करते है तो सकारात्मक उर्जा आपके शरीर में प्रवेश करती है| इससे आपका आत्मविश्वास बढ़ता है और समस्याओं को आप बड़ी ही आसानी से हल कर पाते है|

आप शायद नहीं जानते होंगे लेकिन ध्यान से कैंसर जैसे रोगों को भी दूर किया जा सकता है| लेकिन जब आप इसे करते है तो आपको इसके नियमो का भी पालन करना चाहिए| आइये जानते है Meditation Rules in Hindi.

Meditation Rules in Hindi – ध्यान करने के नियम

Meditation Rules in Hindi

छोटे से शुरुवात करे

जब हम ध्यान का अभ्यास करते है तो इसकी शुरुवात कम वक्त के साथ कर सकते है| अक्सर देखा गया है की जब भी किसी व्यक्ति से ध्यान करने के लिए कहा जाता है तो अधिकतर लोग सिर्फ यह सोच कर इसे नहीं करते की उनसे आधा घंटा ध्यान नहीं हो पायेगा| वे लोग इतने देर के लिए बिना कुछ सोचे नहीं रह सकते|

इसलिए बहुत से लोग इसे करते ही नहीं है| इसके विपरीत जिन लोगो ने ध्यान करने के लिए बहुत कम वक्त लिया जैसे की केवल 5 मिनट वे लोग इसे कर पाए और उन्होंने धीरे धीरे इस टाइम को भी बढाया|

धैर्य रखें

केवल एक बार ध्यान का अभ्यास करने के बाद ज्ञान तक पहुँचने की उम्मीद ना करो। ध्यान का अभ्यास आपको धैर्य रखना सिखाता है,  किन्तु इसके लिए आपको शुरुवात में धेर्य रखना होगा| इसलिए बिना निराश हुए आपको जो चाहे उसके बारे में सोचे| यही Basic Rules Of Meditation है|

अलार्म सेट करे

जब भी हम ध्यान करते है तो वक्त देखने के लिए बार बार आँखे खोलते है| लेकिन यह ध्यान करने का सही तरीका नहीं है| यह तो बस एक फॉर्मेलिटी निभाना है की आपने ध्यान कर लिया है| यदि आप वाकई ध्यान करना चाहते है तो बार बार आँख खोलने के बजाय टाइमर सेट करे|

इसके लिए आपको कुछ नहीं करना है बस अपने मोबाइल में टाइमर सेट कर ले| और हां इसके साथ एक बात का ख्याल रखे की आप कोई अच्छी सी म्यूजिक लगाये| ना की ऐसी बेल जो की सुनने में अच्छी न लगे|

आप यह भी पढ़ सकते है:- ऑफिस मेडिटेशन – जाने इसका तरीका और पाएं तनाव से निजात

आरामदायक कपड़ो का चुनाव

ध्यान करते वक्त आपको एक बात का ख्याल रखना जरुरी है की आपके कपडे एकदम आरामदायक हो| कभी भी टाइट कपडे और जीन्स पहनकर या फिर छोटे कपडे पहनकर ध्यान ना करे| क्योकि मैडिटेशन ध्यान लगाने का माध्यम है ना की ध्यान हटाने का|

छोटे कपडे से आपको ठण्ड लग सकती है, टाइट कपड़ो में थोड़े देर बाद आपको कम्फर्ट नहीं महसूस होगा| इसके लिए ध्यान करते वक्त हमेशा ढीले और फुल कपडे पहने| साथ ही अपने निचे कुशन भी रखे और ऐसी जगह बैठे जहा का वातावरण अच्छा हो|

शांत जगह का चुनाव

ध्यान करने के लिए हमेशा शांत जगह का चुनाव करे| इसके लिए आप सुबह सुबह पार्क में या फिर अपने घर में ही कैंडल जला कर बैठ सकते है| इससे आप अच्छे से ध्यान लगा पाएंगे|

और यदि आपको शांत जगह नहीं भी मिल पा रही है तो कोई बात नहीं आप आवाज वाली जगह पर भी और ज्यादा शक्ति के साथ ध्यान लगाये| इससे आपमें और भी ज्यादा एकाग्रता बढ़ेगी|

ज्यादा सोचने से बचे

जब भी आप ध्यान लगाते है, ज्यादा सोचने से बचे| में बहुत कम वक्त ध्यान लगा पाती/ पाता हु, मेरे मन में तो बहुत सारे ख्याल आते है आदि| आपको यह सब सोचने की जरुरत नहीं है बस ध्यान लगाते जाये, आप कब एक्सपर्ट हो जायेंगे आपको खुद नहीं पता लगेगा|

ऊपर आपने जाना है Meditation Rules in Hindi. इन नियमो को जानने के बाद हम उम्मीद करते है की आपके मन से अब कई सारे कनफ्यूजन कम हो गये होंगे| अब आप भी ध्यान करके अपने मन से तनाव दूर कर सकते है|

You may also like...