Udarakarshanasana: कब्ज और जोड़ो के दर्द में सहायक आसन

Go to the profile of  Yogkala Hindi
Yogkala Hindi
1 min read
Udarakarshanasana: कब्ज और जोड़ो के दर्द में सहायक आसन

योग द्वारा सेहत को मिलने वाले फ़ायदों को कोई झुठला नहीं सकता है। योग का अभ्यास आपको स्वास्थ्य का धनि बनाता है।

योग से कई रोगो से छुटकारा मिलता है। और तो और जो लोग पहले से ही योग का अभ्यास करते है उन्हें कोई भी रोग होने की संभावना बहुत कम हो जाती है।

आज तक हमने आपको योग के कई आसनों की जानकारी दी है। जैसे वजन घटाने के लिए योग, सुंदरता बढ़ाने के लिए योग, ताकत बढ़ाने के लिए योग, यहाँ तक की योग द्वारा आप अपनी आयु कैसे बढ़ा सकते है, यह भी हमने आपको बताया है।

आज हम आपको बहुत से लोगो को होने वाली सामान्य समस्या जैसे कब्ज का रोग, पैरो में दर्द, कमर में दर्द आदि के लिए योग आसन बता रहे है, तो चलिए जानते है Udarakarshanasana के बारे में।

Udarakarshanasana in Hindi - जानिए इसे कैसे करते है और इसके लाभ

Udarakarshanasana

उदराकर्षासन की विधि:-

  • उदराकर्षासन का अभ्यास करने के लिए स्वच्छ समतल स्थान दरी बिछाकर बैठ जाएं।
  • अब दाए पैर को घुटने से मोड़कर कूल्हों के के नीचे रखें।
  • अब घुटना तथा पैरो की उंगलियों को फर्श से सटाकर रखें।
  • इसके बाद बाए पैर को भी घुटने से मोड लेकिन पैर को सीधा रखते हुए इसके पंजे को दाए पैर के घुटने के पास फर्श पर टिकाकर रखें।
  • अब दाए हाथ को दाए घुटनो पर और बाए हाथ को बाए घुटनो पर रखे।
  • अब बाए घुटने को बाए हाथ से जोर से दबाकर नीचे की और दाए घुटने के पास लाने की कोशिश करे।
  • परन्तु ध्यान रखें कि घुटने को फर्श से एक इंच ऊपर ही रखें।
  • अब मुख को बाए और करे, ताकि मुंह और कन्धा सीध में रखें।
  • इस स्तिथि में कुछ देर बने रहे, फिर पैरो को बदलकर भी यह क्रिया दोहराये।

उदराकर्षासन के फायदे

  1. इस आसन को नियमित करने से कब्ज व् एसिडिटी की समस्या से राहत मिलती है।
  2. इस आसन के अभ्यास से पैरों के दर्द से भी राहत मिलती है, जिन लोगो को पैरो में बहुत दर्द रहता है तो उन्हें विटामिन डी की खुराक लेनी चाहिए और इस आसन का अभ्यास करना चाहिए।
  3. यह आसन बहुत से रोगो में फायदा दिलाता है, इससे आपका शरीर एक्टिव होता है और थकान नहीं होती है।
  4. यह ना केवल शारीरिक बल्कि आपको भावनात्मक चुनौतियों का सामना करने के लायक बनाता है।
  5. यदि आपको पंजो में दर्द रहता है तो इसका आसन फ़ायदेमंद है, इससे कमर-दर्द भी दूर होता है।

ध्यान दे:-

  • घुटने की चोट होने पर इसे ना करे।
  • इसे सुबह शाम दोनों वक्त कर सकते है, लेकिन इसे खाली पेट करना ही ज़रुरी है।