Underwater Yoga: शरीर का संतुलन बढ़ाने में मदद करे

आपने योगा के बारे में तो सुना ही होगा और ये भी मालूम होगा की इसे जमीन पर आसन लगा कर किया जाता है। पर क्या अपने पानी के अंदर योग करने के बारे में सुना है?

जी हाँ पानी में भी योग किया जाता है और यह हमें कई तरह के स्वस्थ्य लाभ भी प्रदान करता है| पानी जोड़ो का दर्द और हड्डियों के तनाव को दूर करने में मदद करता है।

पानी में योगा करने से ऑर्थोपेडिक्स के मरीजों को वेट बेअरिंग की परेशानी से राहत मिलती है| यह शरीर को संतुलित करने के लिए एक प्राकृतिक तरीका है| पानी में योग नियमित योग प्रथाओं पर एक बहुत अच्छा बदलाव है।

Underwater Yoga जमीन पर अभ्यास करने से थोड़ा अलग होता  है, लेकिन यह कुछ खास लाभ प्रदान करता है। पानी के भीतर योग वास्तव में मजेदार भी है| पानी में आप ग्रेविटी से दूर हो पाते है, जिससे आप अच्छे से स्ट्रेचिंग कर पाते है और साथ ही शरीर के तनाव को भी दूर कर पाते है| तो चलिए पानी के अंदर किये जाने वाली योग मुद्राओ को देखते है|

Underwater Yoga: पानी के अंदर योग का अभ्यास

Underwater Yoga

पादांगुष्टासन – Big Toe Pose

  • पादांगुष्टासन करने के लिए पानी में सीधे खड़े हो जाये और दाहिने हाथ से एक पूल नूडल को पकड़ ले। अपने बाएं पैर को उठाये और घुटने को छाती की तरफ लाने की कोशिश करे|
  • अब अपने बाएं हाथ से, अपनी बड़ी पैर की अंगुली पकडे और और पैरो को जितना स्ट्रेच कर सकते है करे, लेकिन आपकी पीठ सीधी ही होना चाहिए|
  • अब अपने पैर को आगे की और लाये, पानी का सहारा संतुलन बनाने के लिए| जब आपको लगे तब पूल को छोड़ दे|

नवासना – Boat Pose

इस पोज़ को करने के लिए आपको दो पूल नूडल्स की आवश्यकता होती है| इन दोनों नूडल्स को अपने दायी और  बायीं और कुछ दुरी के साथ रखे। दूरी इतनी ही रखे ताकि आप दोनों हाथों से उन तक पहुंच सकें।

प्रत्येक नूडल को पकड़ लें और उन्हें नीचे दबाएं ताकि वे पानी में डूब जाये| अब अपने पैरों को सामने की तरफ फ्लोट करे।

इस स्थिति में कुछ देर तक साँस लेते रहे। महसूस करे की पानी आपके पैरो को सहारा दे रहा है, वास्तव में इसके लिए आपको मांसपेशियों का सहारा लेना है| आप नवासना के फायदे यहाँ जान सकते है|

अधो मुख वक्रासन – हैंडस्टैंड

पानी में अगर आपने हैंडस्टैंड की प्रेक्टिस कर ली तो जमीन पर आप इसे बहुत आसानी से कर सकते है| आपको बस इतना करना होगा कि पूल के निचले हिस्से में डुबकी लगानी  है और अपने पैर सीधे हवा में छोड़ना है|

पानी आपको आसानी से संतुलन बनाने में मदद करता है उसके बाद आप इस पोज़ को सही तरीके से करने में सफल हो जायेंगे|

इसे गहरे पानी में आज़माएं और आप पूरी तरह से जलमग्न मुद्रा में पानी के नीचे होंगे। इसके अलावा भी आप उर्ध्व मुख स्वानासन, अर्धचन्द्रासन जैसे योगा भी पानी में कर सकते है|

फायदे:-

  • पानी में इस आसन को करने से आप जमीन पर यह आसन आराम से कर सकते है क्यूंकि इसे करके आप अपने शरीर को बेलेन्स करना सीख जाते है|
  • यह आपके शरीर के स्ट्रेस और जॉइंट पेन को कम करने में मदद करता है। इससे तनाव कम होता है|

You may also like...