विपस्सना शब्द का अर्थ होता है: देखना, लौटकर देखना| विपस्सना या विपश्यना अत्यंत पुरातन आत्मनिरीक्षण द्वारा आत्मशुद्धि की साधना-विधि है। जिसका मतलब है की जो जैसा है, उसे ठीक वैसा ही देखना-समझना विपश्यना है।

भगवान गौतम बुद्ध ने लगभग 2500 वर्ष पूर्व विलुप्त हुई इस पद्धति का पुन: अनुसंधान कर इसे सार्वजनीन रोग के सार्वजनीन इलाज, जीवन जीने की कला, के रूप में सर्वसुलभ बनाया।

इस साधना-विधि का प्रमुख लक्ष्य विकारों का संपूर्ण निर्मूलन एवं परमविमुक्ति की अवस्था को हासिल करना है। इस साधना का लक्ष्य सिर्फ शारीरिक रोगों को नहीं बल्कि मानव मात्र के सभी दुखों को ख़त्म करना है। इस साधना के द्वारा हम अपने भीतर शांति और सामंजस्य की अनुभूति कर सकते हैं।

विपस्सना मन की वास्तविक शांति प्राप्त करने और एक सुखी एवं उपयोगी जीवन जीने का एक सरल, व्यवहारिक तरीका है। यह स्व-अवलोकन के माध्यम से मानसिक शुद्धि की एक तार्किक प्रक्रिया है| विपस्सना हमें शांति और सामंजस्य का अनुभव करने में सक्षम बनाता है| तो चलिए Vipassana Meditation के बारे में विस्तार से जानते है|

Vipassana Meditation: इसकी विधि और फायदों को जाने

Vipassana Meditation

विपस्सना कैसे करे?

  • इसे करने के लिए एक रूम का चुनाव करे लेकिन ध्यान रहे की यह न तो ज्यादा सुविधाजनक होना चाहिए और न ही ज्यादा असहज|
  • साधारण और आरामदायक वस्त्रो का चयन करे।
  • विपस्सना ध्यान को करने के लिए लोटस पॉजिशन में आये|
  • पहले अपनी दाईं हथेली को सीधा अपनी गोद में अपने बाएँ ओर शीर्ष पर रखे।
  • अपनी आँखें बंद कर अपने आकृति का एक पहलू पर ध्यान केंद्रित करने की प्रयास करे।
  • ज्यादातर साधक सोलर प्लैक्सस(स्नायु गुच्छ) या नाभि के ऊपर की जगह का चयन करते है।
  • इस चक्र को करने में आपकी ऊर्जा लगती है और यह माध्यम एक बढ़िया चुनाव है।
  • जब आप साँस अंदर लेते है तब आपका सोलर प्लेक्सस तब विकसित होता है और जब आप साँस बाहर छोड़ते है, तब संकुचित होता है|
  • आपको गहरी साँस लेने की कोई आवश्यकता नहीं है।
  • सिर्फ अपनी सांस को प्राकृतिक रूप से लेने पर ध्यान दे और यह स्वतः ही धीमी और गहरी होती जाएगी।
  • आप गहन ध्यान लगाने के और भी तरीके यहाँ से जान सकते है|

विपस्सना के फायदे

  1. यह भावनात्मक संतुलन को बनाए रखते हुए तनाव और क्रोध को कम करता है|
  2. इससे प्रजनन क्षमता बढ़ जाती है। और प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है|
  3. यह रक्तचाप को कम करता है और एंटी -इंफ्लेमेटरी तत्व की तरह कार्य करता है।
  4. महिलाओं के स्वास्थ्य और गर्भावस्था के लिए ध्यान महत्वपूर्ण है।
  5. गर्भावस्था के दौरान मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के लिए भी यह बहुत लाभदायक होता है।

विपस्सना में सावधानी

मेडिटेशन करते समय आप को खुजली और दर्द हो सकता है।