सम्भोग आसनों के अभ्यास से सेक्स जीवन को यादगार बनाये

Go to the profile of  Yogkala Hindi
Yogkala Hindi
1 min read
सम्भोग आसनों के अभ्यास से सेक्स जीवन को यादगार बनाये

यह तो सभी जानते है कि योग एवं व्यायाम के द्वारा तनाव और शारीरिक थकान को दूर किया जा सकता है, लेकिन सम्पूर्ण स्वास्थ्य के साथ-साथ यह आपकी सेक्स क्षमता को बढ़ाने में भी मदद करता है|

अगर हम किसी भी प्रकार की चिंता या परेशानी में होते है तो सेक्स के प्रति रूचि कम हो जाती है| शरीर में किसी भी प्रकार का कष्ट सेक्स के दौरान चरम अवस्था तक पहुँचाने में रूकावट उत्पन्न करता है|

आपकी ख़राब जीवन शैली या किसी भी प्रकार की बीमारी के कारण कई प्रकार से सेक्स सम्बंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है जैसे इरेक्टियल डिस्फंक्शन, शीग्रपतन, नपुंसकता आदि| जब आप शारीरिक और मानशिक रूप से पूर्ण स्वस्थ होंगे तभी आप हर उम्र में स्वस्थ सेक्स जीवन व्यतीत कर पाएंगे|

स्वस्थ और बेहतर Sex Life का आनंद लेने के लिए अन्य साधनों की अपेक्षा योग का सहारा लेना सुरक्षित और फायदेमंद साबित होगा| तभी आप पूर्ण रूप से एक दूसरे को संतुष्ट और खुश रख पाएंगे|

हम आपको यहाँ कुछ ऐसे योगासन बता रहे है जिनके नियमित अभ्यास से आप पुनः अपने योन संबंधों में नहीं ऊर्जा और सेक्स क्षमता विकसित कर पाएंगे| आइये जानते है Yoga for Sex in Hindi.

Yoga for Sex in Hindi: जानिए इसकी विधि और लाभ

Yoga for Sex in Hindi

योग विशेषज्ञों के अनुसार सूर्य नमस्कार, भुजंगासन, हलासन आदि योग आसनों से शरीर में रक्त का संचार बढ़ता है, जो योन संबंधत बनाते समय जरुरी होता है| इनमे से कुछ आसान आपके जननांगो को भी स्वस्थ रखते है|

कई अध्यनों के अनुसार योग के नियमित अभ्यास शरीर के निचले हिस्से को प्रभावित करता है, उनसे स्पर्म की क्वालिटी में आश्चर्य जनक इजाफा होता है| यह हमारे शरीर में हैप्पी और हेल्थी हॉर्मोन्स के स्त्राव में भी मददगार साबित होते है| आइये जानते Sambhog ke Aasan -

पद्मासन

पद्‍मासन के अभ्यास से मांसपेशियां, पेट, घुटने और मूत्राशय में खिचाव उत्पन्न होता है, जिससे इनमें मजबूती आती है| यह शरीर में उत्तेजना का संचार तो करता है ही साथ ही लम्बे समय तक सेक्स करने की क्षमता भी बढ़ती है| इस योगासन के अभ्यास से खोई हुई कामोत्तेजना वापस लोट आती है|

विधि:-

समतल फर्श पर आसान बिछाकर दण्डासन में बैठ जाएं| फिर बायें पैर की ऐड़ी को दायें पैर की जंघा पर तथा दायें पैर की ऐड़ी को बायें पैर की जंघा पर रख दें| घुटनों को जमीन से टिका कर रखें| सिर, गर्दन, कमर और रीढ़ की हड्डी सीधी होनी चाहिए और दोनों हथेलियों को गोद में रख लें| ध्यान की मुद्रा में बैठ जाएं और साँस को नाक से ही निकाले|

तितली आसन

इस आसान को करने से जननांग सुदृढ़ होते है साथ ही पेल्विक और ग्रोइन अंगो में लचीलापन आता है| इस आसान से सेक्स के प्रति रूचि बढ़ाने के साथ - साथ उपभोग का चरम आनंद भी प्राप्त होता है|

विधि:-

फर्श पर आसन बिछाकर पैरों को फैलाकर बैठ जाएं| अब अपने घुटो को मोड़े और दोनों पैरों के पंजो को आपस में मिलाएं| इसके पश्चात पैरों की उंगलियों को दोनों हाथो से पकडे और पैरों को तितली के पंखो के सामान ऊपर नीचे करें| प्रारम्भ में धीरे-धीरे तथा कुछ समय बाद गति बड़ा दें|

आप यह भी पढ़ सकते है:- शारीरिक और मानसिक फिटनेस चाहिए तो योग अपनाइये

भुजंगासन

इस योगासन को करने से सेक्स के समय ऊर्जा मिलेगी तथा एलेक्ट्राइल डिस्फंक्शन की समस्या से मुक्ति मिलती है|

विधि:-

सबसे पहले जमीन पर पेट के बल लेट जाएं| इसके बाद कंधे की साइड में हाथों को शरीर के बगल में तथा हथेलियों को फर्श पर टिका कर रखें| पैर के तलवे ऊपर की ओर तथा दोनों अंगूठे आपस में मिले होना चाहिए| अब हथेलियों की मदद से ऊपरी शरीर को उठाये, नाभि को जमीन से लगा रहने दें| इस स्थिति में आने के बाद लम्बी साँस लें और सिर को सीधा रहने दें| इस समय आपके शरीर की आकृति कोबरा के सामान नजर आती है|

हलासन  

योन ऊर्जा को बढ़ाने के लिए इस आसन का उपयोग किया जाता है| यह पुरुषों और महिलाओं की यौन ग्रंथियों को मजबूत और सक्रिय बनाता है| इससे यौनांगों में उत्तेजना का संचार होता है जिसके कारण काम की इच्छा जागृत होती है। अगर किसी को नपुंसकता की समस्या है तो इस आसन के द्वारा इस समस्या से भी धीरे-धीरे राहत मिलने लगती है।

विधि:-

इस आसन को करने के लिए शवासन की अवस्था में लेट जाएं| साँस को अच्छी तरह से अंदर लेने के बाद धीरे-धीरे कमर से पैरों को पीछे की ओर ले जाये तथा हाथों को उलटी दिशा में सीधा करके रखें| कुछ सेकंड इस अवस्था में रहने के बाद सामान्य स्तिथि में आ जाएं|

अगर आप भी चाहते है कि आपका साथी आपसे हमेशा खुश रहे और आप भी सेक्स जीवन का भरपूर आनंद लेना चाहते है तो Yog for Sex in Hindi का नियमित अभ्यास करें|