योग शरीर के सभी अंगों को स्वस्थ रखने का काम करता है इससे बॉडी पूरी तरह से सेहतमंद बनती है और साथ ही अगर कोई समस्या हो तो उसका समाधान भी आप योग में पा सकते है।

योग एक ऐसा रास्ता है जो आपको स्वस्थ रखता है और कई प्रकार की बीमारियों से भी दूर रखता है। प्रणायाम आपकी सांसो को नियंत्रित करता है और सांसो के नियंत्रण को ही प्रणायाम कहा जाता है।

प्रणायाम के जरिए हम शरीर में सही मात्रा में वायु पहुंचा सकते है जिससे की आप कई प्रकार की साँस संबंधित बीमारियों से दूर रहते है।

आज हम आपको बताएंगे कि Yoga Breathing Exercises किस तरह से हमारे शरीर को फायदा पहुंचाती है।

Yoga Breathing Exercises: जाने योग के अलग अलग प्राणायाम

Yoga Breathing Exercises in Hindi

सुख प्राणायाम

  • इसे करने के लिए पहले मैट पर सुखासन की अवस्था में सीधे बैठ जाएं।
  • अब अपने हाथों को सीधा रखें और अपने अँगूठे से अपनी पहली ऊँगली को छुएं।
  • अब सांस को इस तरह लें की आपका पेट फुले।
  • और साँस ऐसे छोड़ो की आपका पेट पूरी तरह से अंदर हो जाए।
  • अब इस क्रिया को 3 से 4 बार दोहराइए।
  • आपकी साँस लेने और छोड़ने की गति को सामान्य रखें।
  • इस प्राणायाम से आपकी बॉडी और दिमाग दोनों को ही काफी आराम मिलता है।
  • यह प्राणायाम नर्वस सिस्टम को और श्वसन तंत्र को भी मजबूत बनाता है।
  • एकाग्रता बढ़ाता है और साथ ही डिप्रेशन, हाइपरटेंशन और स्ट्रेस से आपको दूर रखता है।

भस्त्रिका

  • भस्त्रिका प्राणायाम करने के लिए आप पहले किसी आरामदायक आसन की अवस्था में बैठ जाएं।
  • इस समय शरीर को सीधा रखें।
  • अब अनुलोम-विलोम आसन की क्रिया को करें।
  • अनुलोम-विलोम की क्रिया में आप पहले अपनी दाँयी नाक से साँस लेते है और बाँयी नाक से साँस छोड़ते है।
  • फिर बाँयी नाक से साँस लेंगे और अपनी दाँयी नाक से साँस छोड़ेंगे।
  • इस क्रिया को भस्त्रिका प्राणायाम कहते है।
  • यह प्राणायाम आपके रेस्पिरेटरी सिस्टम को स्वस्थ रखता है और साथ ही फेफड़ों के लिए भी फायदेमंद होता है।
  • इससे आपकी पेट की चर्बी भी कम होती है और पाचन तंत्र भी ठीक रहता है।

कपालभाति

  • इस प्राणायाम को करने के लिए पहले आप आरामदायक स्थिति में बैठ जाए ।
  • आप अपने दोनों हाथों को अपने पैरों के घुटनों पर रख लें।
  • अब अपनी आँखों को बंद कर लें।
  • अब इस प्रकार से साँस ले कि आपका पेट फुले और एकदम साँस छोड़े जिससे पेट सिकुड़ जाए।
  • अब इस क्रिया को जल्दी जल्दी करने की कोशिश करें।
  • 1 मिनट में यह क्रिया कम से कम 80 से 100 बार तक आप कर सकते है।
  • यह प्राणायाम डायबिटीज, अस्थमा जैसी कई बीमारियों में फायदेमंद होता है।
  • इसे करने से शरीर की एक एक कोशिका की अच्छे से सफाई होती है।
यहाँ हमने आपको Yoga Breathing Techniques बताई है। जिसके अभ्यास से आप बीमारियों से दूर रह सकते है। ऊपर लेख में दिए गए प्राणायाम के अलावा आप भ्रामरी प्राणायाम भी कर सकते है।