अपने जीवन में हर कोई कभी न कभी, किसी न किसी वजह से उदास जरुर हो जाता है। कई बार हमारे हालात कुछ ऐसे चल रहे होते हैं कि हम लंबे दिनों तक उदास रहते हैं और फिर डिप्रेशन के शिकार हो जाते हैं। आइए आज सद्‌गुरु से जानते हैं कि आखिर कैसे बचें उदासी और अवसाद से ?

हम सभी कभी न कभी अपनी जिंदगी में उदास हो जाते है| जरुरी नहीं है की उदासी के पीछे का कारण एक ही हो, सभी लोग अलग अलग कारणों से उदास होते है और सभी के उदास होने का समय भी अलग अलग होता है| कुछ लोग एक दिन, एक घंटा या फिर कुछ समय के लिए उदास रहते है वही कुछ लोगो की यह उदासी लम्बे समय तक बनी रहती है|

पर क्या आप जानते है की यह लम्बे समय तक बनी हुई उदासी अवसाद का कारण बनती है| कई दिनों तक उदास व्यक्ति धीरे धीरे अवसाद में चले जाता है| अवसाद आपको पूरी तरह से ख़तम कर देता है| यह आपको शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से नुकसान पहुचाता है| इससे निजात दिलाने में योग बेहद सहायक है| आइये जानते है  Yoga for Depression in Hindi.

Yoga for Depression in Hindi: अवसाद दूर करने के लिए

Yoga for Depression in Hindi

व्यक्ति का उदास होना कोई बड़ी बात नहीं है बहुत से लोग उदास होते है और अगले ही पल उदास करने वाली बात को भूलकर लाइफ में आगे बढ़ जाते है| लेकिन अवसाद से घिरा व्यक्ति जिंदगी भर यह बात साथ लेकर चलता है| शुरुआत में व्यक्ति को खुद इस बारे में नहीं पता होता है की वो अवसाद से घिर चूका है लेकिन धीरे धीरे उसके स्वभाव में फरक नजर आने लगता है|

व्यक्ति में चिड़चिड़ापन, अहंकार, कटुता जैसे भाव आने लगते है| वो खुद को दुनिया से दूर करने लगता है| उस व्यक्ति विशेष के लिए सुख, शांति, सफलता यहां तक कि कुछ केसेस में उसके अपने भी गलत लगने लगते हैं। उसे हर जगह निराशा तथा अशांति का ही आभास होता है। ऐसा व्यक्ति हमेशा ही तनाव में रहता है| आइये जानते है योग के किन आसनों से इसे दूर किया जा सकता है|

बालासन

बालासन का अभ्यास तनाव और थकान से छुटकारा दिलाता है| यह पीठ के निचले हिस्से और कमर को स्ट्रेच करता है| इसमें शरीर की स्तिथि पेट में पल रहे बच्चे की तरह होती है इसलिए इसे बालासन कहा जाता है|

बालासन की विधि:

बालासन का अभ्यास करने के लिए सबसे पहले पलथी लगाकर बैठ जाये| इसके बाद अपने ऐड़ियों पर बैठें| आपका नितम्ब आपकी एडियो पर टिकना चाहिए| अब अपने सिर को ज़मीन पर टिकाये| फिर अपने हाथों को सिर से लगाते हुए आगे की ओर सीधा रखें और हथेलियों को ज़मीन से लगाएं| अपनी साँसों को सामान्य रखे| इस अवस्था में आप 15 सेकेण्ड से 2 मिनट तक रहें|

भुजंगासन योग

इससे आपके शरीर में उर्जा आती है और आपका मुड सुधरता है| पीठ के दर्द के रोगीयों के लिए तो यह आसान बहुत ही गुणकारी होता है|

Bhujangasana Step: भुजंगासन की विधि जानिए

सेतुबंधासन

गर्भावस्था में यह आसन बहुत उपयोगी है| यदि आप कमर दर्द की समस्या से बहुत परेशान हो चुके है तो आपको इसका अभ्यास जरुर करना चाहिए| इससे आपकी रीढ़ की हड्डी में लचीलापन आता है| यह आपके अन्दर की उदासी को दूर कर मूड को सुधारता है|

शवासन

शवासन दो शब्दों से बना है शव + आसन| इसमें व्यक्ति का शरीर शव के समान दिखाई देता है| इसलिए ही इसे शवासन नाम दिया गया है|यह आपके दिमाग को शांत करता है साथ ही तनाव और अवसाद जैसी चीजों को दूर करता है| यह सबसे प्रभावी Yoga Treatment for Depression है|
  • यह आपके शरीर को आराम पहुचाता है|
  • इससे सिरदर्द, थकान और अनिद्रा दूर होती है|
  • यह रक्तचाप को कम करने में मददगार है|
  • ससे मस्तिष्क की कार्यक्षमता और आत्मविश्वास बढ़ता हैं।

सुखासन

आजकल के इस भागदौड भरे माहोल में हर कोई तनाव से घिरा हुआ है| इसके चलते व्यक्ति में उदासीनता और चिडचिडापन आ जाता है| इसका असर व्यक्ति के रिश्ते पर पढता है| लेकिन यदि सुखासन को नियमित रूप से किया जाये तो मानसिक शांति मिलती है| तन और मन दोनों के स्वस्थ रहने के लिए यह आसन बहुत ही फायदेमंद है|

Sukhasana Steps: सुखासन  की विधि जानिए 

ऊपर आपने जाना Yoga for Depression in Hindi. यदि आपको ऐसा लग रहा है की आपका मूड खराब है और आपको जीवन उदास लग रहा है तो आप उपरोक्त योग का अभ्यास शुरू कर दे| इससे आपके जीवन में सकारात्मकता आती है और नयी उर्जा का विकास होता है|