Yoga for Gas Problems: गैस की समस्या को दूर करने के लिए योग

Go to the profile of  Yogkala Hindi
Yogkala Hindi
1 min read
Yoga for Gas Problems: गैस की समस्या को दूर करने के लिए योग

आजकल अधिकतर लोगो को गैस की समस्या होती है। कुछ लोग तो इस समस्या से प्रतिदिन ही पीड़ित रहते है। वैसे तो गैस की समस्या सामान्य होती है परन्तु यदि अधिक समय तक इसे अनदेखा किया जाए तो यह समस्या घातक भी हो सकती है।

गैस की समस्या से हर उम्र के लोग परेशान रहते है यह बूढ़ो से लेकर बच्चों तक को अपनी चपेट में लेता है। गैस की समस्या ज्यादा भोजन कर लेने, अनियमित खान पान, देर रात तक जागना, व्यायाम की कमी आदि से उत्पन्न होती है।

दवाईओ से गैस की समस्या का परमानेंट उपचार नहीं हो पाता है परन्तु योग एक ऐसा माध्यम है जो गैस की समस्या को उत्पन्न ही नहीं होने देता।

योग के माध्यम से सभी उम्र के लोग गैस की समस्या से निजात पा सकते है। जानिए Yoga for Gas Problems कौन कौन से होते है। जिसे आप अपने दैनिक जीवन में कर सकते है।

Yoga for Gas Problems: इन आसनों से पाएं गैस की समस्या से निजात

Yoga for Gas Problems

पवनमुक्तासन

  • पवनमुक्तासन गैस की समस्या को दूर करने के लिए उत्तम आसन होता है।
  • इसके नाम से ही आप अंदाजा लगा सकते है की यह गैस को शरीर से बाहर निकलने में सक्षम आसन है।
  • इस योग के द्वारा शरीर से दूषित हवा को मुक्त किया जाता है।साथ ही यह पेट को भी स्वस्थ रखता है।
  • इसी कारण इसे Gas Releasing Yoga भी कहते है।
  • पाचन तंत्र को सुधारने और एसिडिटी को दूर करने के लिए इस आसन का नियमित अभ्यास कर सकते है।

हलासन

  • इस आसन को प्रातः काल करना अच्छा होता है।
  • हलासन द्वारा यकृत और आंत को आराम मिलता है।
  • अपच और कब्ज के लिए हलासन को करना फ़ायदेमंद होता है।
  • साथ ही यह आसन पेट की चर्बी को भी कम कर देता है।

हस्तपदासन

  • इस आसन को करने से पूर्ण शरीर में खून का संचार अच्छे से होता है।
  • हस्तपदासन पेट को मजबूती प्रदान करता है जिससे गैस की समस्या दूर हो जाती है।
  • इस आसन को नियमित करने से पाचन क्रिया ठीक रहती है।

अर्ध मत्स्येन्द्रासन

  • अर्ध मत्स्येन्द्रासन मल त्यागने में सुधार करता है और कब्ज से निजात दिलाता है।
  • साथ ही यह यकृत और प्लीेहा को स्वस्थ रखने में भी मदद करता है।
  • अर्ध मत्स्येंद्रासन मोटापे के लिए भी अच्छा होता है।
  • यदि किसी को मधुमेह की समस्या हो तो इस आसन को करने से बहुत ही राहत मिलती है।

पश्चिमोत्तानासन

  • पश्चिमोत्तानासन को नियमित करने से कई बीमारियों से छुटकारा मिलता है।
  • इस आसन द्वारा पेट की मासपेशियां मजबूत होती है जो पाचन से संबंधित परेशानियां जैसे गैस, कब्ज, अपच को दूर करने में मदद करती है।
  • तनाव को दूर करने के लिए भी यह आसन लाभकारी होता है।
  • यदि किसी को अनिद्रा रोग की समस्या है तो इस आसन को करने से वह भी दूर हो जाती है कुछ लोगो को अनिद्रा के कारण भी गैस की समस्या उत्पन्न होती है।