योग आपको कई प्रकार की बीमारियों से राहत दिलाने में सक्षम होता है। योगासनों को करने से आप अपने आप को शांत रखने के साथ साथ ऊर्जावान भी महसूस करते है।

बॉडी के सभी पार्ट के लिए कोई ना कोई योगासन होता है जिसे करने से आप अपने उस पार्ट को स्वस्थ रख पाएंगे और दर्द से निजात पा सकेंगे। हमारी बॉडी में हम सबसे ज्यादा हिप्स जॉइंट का इस्तेमाल करते। ऐसे में अपने हिप्स पैन से राहत पाने के लिए योग का सहारा लिया जा सकता है।

योगा करने से मानसिक और शारीरिक दोनों प्रकार की शांति मिलती है। यह बॉडी को स्ट्रेच करता है और साथ ही दर्द को ख़त्म करने में मददगार होता है।

यहाँ हम आपको बता रहे हिप्स पैन के लिए आपको कौन-से आसनो को करना चाहिए। यह योगसन आप कैसे कर सकते है। आइये जानते है Yoga for Hip Pain.

Yoga for Hip Pain: कूल्हे का दर्द दूर करने के लिए करें ये योगासन

Yoga for Hip Pain in Hindi

आनंद बालासन (Happy Baby Pose)

  • यह आसन आपके पैरों और हाथों को काफी अच्छी स्ट्रेचिंग देता है।
  • इसी के साथ आपके बैक को भी आराम मिलता इस आसन को करने से।
  • इससे आपके हिप्स को दर्द से जरूर राहत मिलेगी।
  • इस आसन को करने के लिए आप पहले पीठ के बल लेट जाएं।
  • इसके बाद अपने दोनों पैरों को ऊपर उठाएं और अपने दोनों हाथो से अपने पैरों के पंजो को पकड़े।
  • इस आसन को करते समय सामान्य साँस लें।
  • और इस अवस्था में कम से कम 20 से 30 सेकंड तक के लिए जरूर रहे।
  • अब धीरे धीरे सामान्य अवस्था में लोट आएं।

अंजनेयासन (Low Lung Pose)

  • यह आसन करने से आपकी बॉडी को एक बहुत ही अच्छी स्ट्रेचिंग मिलती है और साथ ही बॉडी टोंड रहती है।
  • यह बॉडी में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाता है साथ ही मांसपेशियों को रिलैक्स करता है।
  • यह आपके हिप्स के दर्द को भी कम करता है।
  • इस आसन को करने के लिए आपको पहले अधोमुख स्वानासन की अवस्था में आना पड़ेगा।
  • अब साँस छोड़ते हुए अपने पैर को सीधा हाथों के बीच रखे और ध्यान रहे कि पैर और पंजा दोनों सीधे हो।
  • इसके बाद दूसरे पैर के घुटने को ज़मीन पर रखे।
  • अब गहरी साँस ले और अपनी बॉडी को ऊपर उठाने की कोशिश करें।
  • अपने सिर को पीछे की ओर ले जाए और ऊपर देखें।
  • गर्दन और रीढ़ की हड्डी पर ज्यादा ज़ोर ना डाले।

अर्धमत्स्येन्द्रासन (Half Spinal Twist Pose)

  • अर्धमत्स्येन्द्रासन करने से आपके सभी अंदरूनी बॉडी पार्ट्स भी रिलैक्स हो जाते है।
  • यह आसन करने से बॉडी से टॉक्सिक निकल जाते है और ब्लड फ्लो सही रहता है। साथ ही हिप्स पर भी खिंचाव पैदा करता है।
  • इस आसन को करने के लिए पैरों को सामने की ओर फैलाकर बैठ जाएं।
  • अब अपने बांये पैर को मोड़ कर अपने दांये हिप के नीचे रखे।
  • अब दूसरे पैर को घुटने से मोड़ते हुए बांये पैर के घुटने के पास रख दें।
  • अब अपने सिर से कमर तक के हिस्से मतलब अपर बॉडी को दांयी ओर मोड़े ।
  • अब अपनी क्षमता अनुसार इस अवस्था में रहे।
  • अब इस पूरी क्रिया को दूसरी तरफ से भी दोहराइए।
हमारे शरीर में किसी तरह का दर्द होना एक सामान्य क्रिया है जो किसी भी कारणवश हो सकता है। लेकिन इसका उपचार बेहद आवश्यक है। यहाँ हमने आपको कूल्हे में होने वाले दर्द से राहत दिलाने वाले योगासनों के बारे में बताया है।