Yoga for Memory Power: योग करने पर बुढ़ापे में भी नहीं कमजोर होगी याददाश्त

Go to the profile of  Yogkala Hindi
Yogkala Hindi
1 min read
Yoga for Memory Power: योग करने पर बुढ़ापे में भी नहीं कमजोर होगी याददाश्त

योग हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है। योग को किसी भी उम्र के व्यक्ति द्वारा किया जा सकता है। यदि आप नियमित रूप से योग करते है तो इसका फायदा आपको बुढ़ापे में भी देखने को मिल सकता है।

योग का नियमित अभ्यास आपके मस्तिष्क की संरचना को परिवर्तित कर सकता है। जिससे बुढ़ापे में भी समझ-बूझ में आने वाली कमी और स्मरण शक्ति को कमजोर होने से बचाया जा सकता है।

ब्राजील के साओ पाउलो में हॉस्पिटल इजरैलिटा अल्बर्ट आइंस्टीन की शोधकर्ता एलिसा कोजासा ने बताया कि मांसपेशियों की तरह ही मस्तिष्क भी प्रशिक्षण से विकसित होता है।

बढ़ती उम्र के साथ साथ मस्तिष्क की कार्यक्षमता और संरचना में बदलाव होता है और इससे अक्सर ध्यान और स्मृति में कमी हो जाती है। Yoga for Memory Improvement and Concentration के लिए कई योग है जिनके द्वारा आप अपनी मेमोरी पावर को बढ़ा सकते है। आइये जानते है Yoga for Memory Power जो आपकी याददाश्त बढ़ाने में मदद करते है।

Yoga for Memory Power: याददाश्त बढ़ाने में बेहद मददगार होंगे ये योगासन

Yoga for Memory Power

Yoga for Memory के लिए बहुत से आसन होते है जो की इस प्रकार है।

हठ योग

  • प्रतिदिन 20 मिनट तक हठ योग का अभ्यास करने से दिमाग तेज होता है। यह तनाव को भी दूर करता है।
  • हठयोग के नियमित अभ्यास से मानसिक तौर पर शांति प्राप्त होती है।साथ ही मानसिक संतुलन को बनाये रखने में भी यह मदद करता है जिसके कारण माइंड तेज होता है।
  • आजकल लोगो की लाइफ तनाव पूर्ण हो गयी है जिसके चलते कई मानसिक बीमारियाँ भी हो रही है। इस योग को करने से मन शांत रहता है जो बीमारियों को दूर करने में सहायक होता है।

सूर्य नमस्कार

  • सूर्य नमस्कार का अर्थ है सूर्य को अर्पण या नमस्कार करना। अगर आप तनाव मुक्त और स्वस्थ जीवन जीने की इच्छा रखते है तो सूर्य नमस्कार से अच्छा कुछ नहीं हो सकता है।
  • प्रतिदिन सूर्य नमस्कार करने से मन को शान्ति मिलती है और दिमाग तेज होता है।
  • सूर्य नमस्कार को नियमित तौर पर करने से नर्वस सिस्टम सुचारु रूप से कार्य करता है इसलिए मानसिक तनाव दूर हो जाता है और सारी चिंताए भी दूर हो जाती है।
  • याददाश्त को तेज बनाने के लिए प्रतिदिन सूर्य नमस्कार करना बहुत अच्छा होता है साथ ही इससे शरीर भी स्वस्थ रहता है।

पर्वतासन

  • इस आसन को करने से जोड़ों का दर्द और कंधे का दर्द सही हो जाता है।
  • इसे रोज करने से मस्तिष्क पर बहुत अच्छा असर पड़ता है। मन प्रसन्न रहता है और यह ध्यान को केंद्रित करने में भी सहायक होता है।
  • दिमाग को तेज करने के लिए इसका नियमित रूप से अभ्यास करना उत्तम होता है। यह एक स्वस्थ दिमाग के विकास में सहायक होता है।
  • इसके अतिरिक्त यह कई प्रकार के रोगों को भी ठीक करता है। यह तभी संभव है जब इसका नियमित रूप से अभ्यास किया जाए।

भुजंगासन योग

  • इस आसन में पेट के बल लेटा जाता है फिर गर्दन से कमर तक के हिस्से को ऊपर उठाया जाता है।
  • यह दिमाग को शांत करके सकारात्मक विचारों को लाता है। यह दिमाग को तेज करने में भी लाभदायक होता है।
  • भुजंगासन के द्वारा एड्रेनैलिन ग्रंथि प्रभावित होती है साथ ही यह एड्रेनैलिन हॉर्मोन के स्राव में सहायता करता है जिसके कारण चिंता, तनाव, डिप्रेशन इत्यादि दूर हो जाते है और मष्तिष्क तेज हो जाता है।
  • साथ ही यह आसन अस्थमा, थायराइड जैसे रोगों से भी मुक्ति दिलाने का कार्य करता है।

उत्तनासन योग

  • इस आसन में आपको सीधे खड़े रहकर अपने पैरो कि और झुकना होता है। हथेलियां पंजे के पास होती है।
  • इस आसन के द्वारा एकाग्रता बढ़ती है और दिमाग तीव्र होता है। इस आसन के द्वारा कमर, पैर, सिर एवं मेरूदंड का व्यायाम हो जाता है।
  • इस आसन का अभ्यास करने से दिमाग तनाव मुक्त हो जाता है और मस्तिष्क को शांति प्राप्त होती है।
  • एकाग्रता को बढ़ाने के लिए यह बहुत ही उत्तम आसन होता है। यह शरीर की थकान को दूर कर उसे चिंता मुक्त बना देता है। इसलिए इसका अभ्यास करना चाहिए।

वज्रासन योग

  • इस आसन में ज्यादा मेहनत की आवश्यकता नहीं होती है। आप इसे कभी भी और किसी भी समय आसानी से कर सकते हैं।
  • यह आसन एकाग्रता को बढ़ाता है। यह एक ऐसा आसन है जिसे खाना खाने के बाद भी किया जाता है।
  • इस आसन को करने से मन की चंचलता दूर हो जाती है जिससे मन को एकाग्र करने में आसानी होती है।
  • साथ ही यह पेट की समस्याओं को भी दूर करता है जैसे की कब्ज, अपच आदि। पाचन शक्ति भी इस आसन को करने से मजबूत हो जाती है।

हलासन योग

  • हलासन दिमाग को तेज करने के साथ साथ तनाव को कम करता है और मोटापे को भी दूर करता है।
  • यह दिमाग को तेज करने के साथ साथ सिर दर्द की समस्या को भी दूर करता है इसलिए इसे नियमित तौर पर करना अच्छा होता है।
  • यदि आप तेज दिमाग के साथ खूबसूरत भी दिखना चाहते है तो इस आसन को करना आपके लिए लाभकारी रहेगा क्योंकि यह चहरे में निखार लाता है।

पद्मासन योग

  • यह आसन मन को शांत रखने के साथ साथ स्मरण शक्ति को भी बढ़ाता है। इसलिए इसका नियमित रूप से अभ्यास कर सकते है।
  • यह तनाव को दूर करने में मदद करता है। साथ ही मांसपेशियों में उत्पन्न तनाव को कम करने में भी मदद करता है।
  • यह पाचन क्रिया को भी दुरुस्त रखता है जिससे पेट की समस्याएं दूर हो जाती है।
  • ध्यान करने के लिए भी यह बहुत ही उत्तम होता है। योगी इस आसन को नियमित रूप से करते है।

पश्चिमोत्तानासन योग

  • यदि आप स्मरण शक्ति बढ़ाना चाहते है तो इस आसन को कर सकते है।
  • स्मरण शक्ति बढ़ाने के आलावा यह पाचन में सुधार, थकान को कम करना और तनाव को दूर करने में सहायक होता है।
  • मन शांत हो जाता है क्रोध भी इससे दूर हो जाता है।
  • यह आसन मोटापे को भी काम करने में मदद करता है।
उपरोक्त Memory Power Increase Tips के जरिये आप अपनी मेमोरी पवार को तो बढ़ा सकते है साथ ही अपने शरीर को भी स्वस्थ्य रख सकते है और रोगों से भी मुक्ति पा सकते है।