Yoga for Relationship Stress: रिश्तो में आते तनाव को रोके योगा

योग के बारे में तो आपको पता ही है की यह आपको कई प्रकार की बीमारियों से छुटकारा दिलाता है। उसी प्रकार यह आपको मानसिक और शारीरिक दोनों प्रकार से शांति प्रदान करता है जिससे की आप अपने आप को तनाव मुक्त रख सकते है।

अगर आप अपने आप तनाव से ग्रसित समझते है तो आप को योग का सहारा लेना चाहिए जिससे की आप अपने आप को स्वस्थ रख सके। जब कभी कोई तनाव ग्रसित हो तो उन्हें अपना माइन्ड डाइवर्ट करने के लिए कवच न कुछ एक्टिविटी करनी चाहिए।

ज्यादातर कपल्स के रिश्तो में यह देखने को मिलता है की वो तनाव में रहते और उनके रिश्ते खराब होने लगते है। सिर्फ तनाव के कारण अपने रिश्ते को खराब होने बचाने के लिए आपको योग करना चाहिए।

इस लेख में आज हम आपको बता रहे की कैसे आप रिश्तो में आते तनाव से मुक्ति पा सकते है। अपने रिश्तो में से तनाव को हटाने के लिए आपको कुछ खास चीज़ो का ध्यान रखना चाहिए और साथ ही योग करना चाहिए। पढ़े Yoga for Relationship Stress.

Yoga for Relationship Stress: योग से करे अपने रिश्तो के बिच का तनाव दूर

Yoga for Relationship Stress in Hindi

रखे इन बातो का ध्यान

  • अपने रिश्तो में तनाव किस बात को लेकर यह जानने की करे कोशिश।
  • तनाव के कारण को दूर करने की कोशिश करें।
  • अपने मन को शांत रखने के लिए मैडिटेशन करें।
  • योग के कुछ आसनो का भी सहारा लें।
  • जब कभी भी आप तनाव महसूस करे तो अपने पार्टनर को परेशान करने की जगह आप म्यूजिक सुने।
  • आपको डांस, जिम या फिर किसी स्पोर्ट क्लास को ज्वाइन करना चाहिए जिससे की आप स्ट्रेस कम महसूस करेंगे।
  • हमेशा पॉजिटिव ही सोचे और साथ ही उन लोगो के साथ ही रहे जो पॉजिटिव सोचते हो।
  • अपने खान पान पर ज्यादा ध्यान दें।
  • इसके अलावा एक निर्धारित समय की नींद जरूर लें।
  • अपने परिवार के लोगो के सतह भी समय व्यतीत करें।
  • अलग अलग एक्टिविटीज करे और उसमे अपने परिवार के लोगो को भी शामिल करें।
  • अपनी रूचि अनुसार काम करे। इससे आपको फ्रेशनेस महसूस होगी।
  • अगर आपको पड़ना अच्छा लगता है तो को अच्छी पुस्तक पढ़े इससे भी स्ट्रेस कम होती है।
  • अपने पार्टनर के साथ हफ्ते में एक बार जरूर घूमने जाए।
  • डेटिंग पर जाए इससे भी तनाव कम होता है
  • अपने पार्टनर के साथ भी अलग अलग एक्टिविटीज करे जिससे तनाव कम होगा।

मैडिटेशन जरूर करे

  • मैडिटेशन करने के लिए आप अपनी मैट पर आरामदायक अवस्था में बैठ जाए।
  • अपने आस पास का वातावरण शांत होना चाहिए।
  • अपनी रीढ़ की हड्डी को सीधा रखे और अपने शरीर पर दबाव नहीं बनने दें।
  • आप अपने दिमाग को शांत करने के लिए एकाग्रित करें।
  • आप अपने आप वस्तु और आकर की कल्पना करेंगे जिससे की मन शांत होना शुरू होगा।
  • अब अपनी साँस लेने के तरिके पर ध्यान केंद्रित करें।
  • आपको मैडिटेशन सुबह करना चाहिए यह ज्यादा फायदेमंद होगा अगर आपके पास समय न हो तो आप इसे दिन में कभी भी क्र सकते है।
  • मैडिटेशन की स्वस्थ में कम से कम 15 से 20 मिनट के लिए जरूर रहे।

ऊपर दिए लेख में हम ने आपको बताया की आप अपने रिश्तो में तनाव दूर करने के लिए क्या क्या कर सकते है और आपको किस तरह स्ट्रेस मुक्त होने के लिए मैडिटेशन करना चाहिए। आप स्ट्रेस दूर करने के लिए धनुरासन (बो पोज़ ), मत्स्यासन (फिश पोज़ ), जणू शीर्षासन (वन लेग्गेड फॉरवर्ड बेंड), सेतुबंधासन (ब्रिज पोज़), मर्जरीआसन (कैट स्ट्रेच), पश्चिमोत्तानासन (टू फॉरवर्ड बेंड), हस्तपादासन (स्टैंडिंग फॉरवर्ड बेंड ), अधोमुख श्वानासन ( डाउन्वर्ड फेसिंग डॉग), शीर्षासन (हेड स्टैंड), शवासन (कॉर्प्स पोज़), भी कर सकते है।

You may also like...