Yoga for Sciatica: साइटिका की समस्या को दूर करेने के लिए करे ये योग

Go to the profile of  Yogkala Hindi
Yogkala Hindi
1 min read
Yoga for Sciatica: साइटिका की समस्या को दूर करेने के लिए करे ये योग

योग करने से कई तरह की बीमारियों से राहत मिल सकती है, अगर आपको साइटिका की समस्या है तो योग में इसका भी इलाज है।यह आज कल एक आम सी समस्या हो गयी है पर योग के कुछ आसनों को करने से साइटिका की समस्या से राहत पाई जा सकती है और इससे होने वाले पैरो के दर्द, पीठ के दर्द से भी राहत मिल जाएगी।

अगर आपको कमर में दर्द हो, कभी पैरो में सुन्नता महसूस हो या सुई की सेंसेशन महसूस करे तो समझ जाये की आपको साइटिका की समस्या है।इसके इलाज के तौर पर आप योगासन को अपना सकते है और यह साइटिका की समस्या के साथ साथ हर तरह से आपके लिए फ़ायदेमंद साबित होगा।

अगर किसी योग को करने में कुछ तकलीफ हो तो उस योगासन को करना वही छोड़ दे और साथ ही इस बात का भी ध्यान रखे की सभी योगासन किसी प्रशिक्षक के निर्देशन अनुसार ही करे।आइये अब पढ़े की किन योगासनों को करने से आपकी साइटिका की समस्या दूर हो जाएगी।

Yoga for Sciatica: जानिए साइटिका की समस्या को दूर करने वाले योग

Yoga for Sciatica

 

भुजंगासन योग

  • कोबरा पोज़ या भुजंगासन एक ही होता है इसमें बॉडी के अपर पार्ट को नाग की तरह ऊपर उठाया जाता है।
  • भुजंगासन करने के लिए पहले पेट के बल लेट जाये।
  • दोनों पैरो के बीच दूरी कम रखे और साँस लेते हुए अपर बॉडी को उठाये।
  • ध्यान रखे की कमर पर ज्यादा खिंचाव न हो और अपनी क्षमता अनुसार इस आसन की मुद्रा को बनाये रखे।
  • स्टार्टिंग में इसे 3 से 4 बार ही करे।
  • यह आसन साइटिका के साथ साथ पेट की चर्बी कम करने और थाइरॉइड में भी फायदेमंद होता है।
  • इस आसन को हर्निया एवं अलसर की समस्या वाले लोगो को नहीं करना चाहिए।

अपानासन योग

  • इस आसन को करने से साइटिका के दर्द और सुन्नता की समस्या से भी राहत मिल जाती है।
  • यह अपानासन पवनमुक्तासन का एक रूप है।
  • इस आसान को करने के लिए पहले अपनी पीठ के बल लेट जाये।
  • अब अपने दोनों पैरो को उठाये और घुटनों को छाती के पास लाये।
  • अब अपने सर को उठाएं साथ ही ठोड़ी को घुटनों से टच करे और घुटनो से मोड़ कर अपनी बांहों के घेरो में ले।
  • जब तक रह सके इस मुद्रा में रहे फिर साँस छोड़ते हुए पैरो को सीधा कर ले।
  • स्टार्टिंग में इसे 3 - 4 बार करे।
  • यह आसन साइटिका के अलावा एसिडिटी, पेट की चर्बी, के लिए भी फ़ायदेमंद है।
  • अगर आपको घुटनो में दर्द है या फिर गर्दन में तो आपको इस आसन को नहीं करना चाहिए।

अधोमुख स्वानासन योग

  • इस आसन को करने से साइटिका के कारण होने वाले पीठ के दर्द में राहत मिलती है।
  • इस आसन को करने के लिए पहले अपने हाथो और घुटनो के बल लेटे।
  • अब नितंबो को उठाइये साथ ही घुटनो और हाथो को सीधा कर ले।
  • अपने दोनों हाथों को सम्मान रखे और हाथेलियों को फैला दे।
  • 1 - 3 मिनट तक इस मुद्रा में रहे और फिर साँस छोड़ते हुए सामान्य अवस्था में आ जाये।
  • यह साइटिका में होने वाले बदन दर्द से राहत दिलाने के साथ साथ हाथ, पैर की हड्डियों को मजबूत बनाता है।
  • इसे नियमित करने से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या भी दूर होती है और नींद ना आने की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।

सुप्त पादांगुष्ठासन योग

  • इस योगासन से साइटिका में काफी हद तक राहत मिलती है।
  • इस योगासन को करने के लिए पहले दोनों पैरो को फैला कर मैट पर लेट जाये।
  • अब अपने एक पैर को उठाइये और एक इतना लम्बा कपड़ा लीजिये जिस को पंजे में डाल कर हाथो में अच्छे से पकड़ सके।
  • अब अपने पैर को धीरे धीरे स्ट्रेच करे और कोशिश करे घुटने को मोड़े बिना अपने पैर को सर की तरफ लाने की, कुछ समय ऐसे हीं रहे।
  • अब पहले हाथो में से कपड़ा छोड़ दे और फिर साँस छोड़ते हुए धीरे धीरे पैर नीचे रखे।
  • अब यही प्रोसेस दूसरे पैर से दोहराइये।
  • यह पीठ दर्द को मिटा देता है और मांसपेशियों को स्ट्रेच करने में भी मददगार साबित होता है।

शलभासन योग

  • इस योगासन से साइटिका का कमर और पीठ का दर्द काफी हद तक कम हो जाता है।
  • आसन करने के लिए पहले उलटे लेट जाये फिर साँस अंदर लेते हुए अपने पैरो को उठाइये।
  • अब अपनी हाथो की मुठ्ठी बना के जांघो के नीचे रख ले।
  • पैरो को बिना मोड़े सीधा रखे और गहरी साँस ले।
  • अब साँस छोड़ते हुए पैरो को नीचे रखे।
  • यह आसन हाथो और कंधो को मजबूत बनाता है और साथ ही पाचन क्रिया सुधारने में लाभकारी होता है।

सेतुबंधासन योग

  • इस योगासन में आप अपने शरीर को एक सेतु की मुद्रा में रखते है।
  • इस योगासन को करने के लिए पहले सीधे लेट जाये और पैरो को घुटनो से मोड़ कर रखे।
  • अपने हाथ सीधे रखे और हाथेलियों को जमीन पर जमा कर रखे।
  • अब साँस लेते हुए अपनी पीठ और मध्य भाग को धीरे धीरे उठाने की कोशिश करे।
  • इस मुद्रा को 2 -3 मिनट तक बनाये रखिये और अगर चाहे तो अपने हाथो से कमर को सहारा भी दे सकते है।
  • यह योगासन साइटिका की समस्या के साथ साथ थाइरोइड की समस्या में भी लाभदाय होता है।
  • यह योग पाचन क्रिया और अस्थमा जैसी बिमारियों में भी मददगार है।
अगर आप भी साइटिका की समस्या से परेशान है तो ऊपर दिए गए योगासनो को करिए और उससे होने वाली परेशानियों से छुटकारा पाए। ऊपर दिए गए सभी योगासन साइटिका की समस्या से जूझ रहे अंगो को दर्द से मुक्त करने में पूरी तरह से सक्षम है। इन योगासनों को करें और साइटिका के दर्द से मुक्ति पाए।